Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

शास्त्री बोले - बतौर कोच जो हासिल करना चाहता था , उसमें कामयाब रहा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शास्त्री बोले - बतौर कोच जो हासिल करना चाहता था , उसमें कामयाब रहा

नई दिल्ली । भारतीय क्रिकेट टीम के कोच और पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री का टी -20 विश्वकप के बाद कॉंट्रेक्ट खत्म होने जा रहा है । उन्होंने इसके साफ संकेत दे दिए हैं कि विश्वकप के बाद वह इस पद को छोड़ देंगे । इस दौरान उन्होंने खुशी जताई कि बतौर कोच , उन्होंने अपने लिए जो लक्ष्य निर्धारित किया था वह उसे हासिल करने में सफल हुए हैं । उन्होंने कहा पिछले 5 साल में भारतीय क्रिकेट टीम का दबदबा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पूरी तरह नजर आया है । हम नंबर वन टेस्ट टीम रहे । ऐसा कोई देश नहीं रहा , जहां जाकर हमने मेजबान टीम को न हराया हो । 

बता दें कि इंग्लैंड के अखबार टेलीग्राफ को दिए इंटरव्यू में रवि शास्त्री ने कहा कि अब वह भारतीय कोच की भूमिका में ज्यादा समय तक नहीं रहेंगे । टी 20 विश्वकप के बाद वह इस पद को छोड़ देंगे। शास्त्री ने कहा, ''टीम इंडिया के लिए पिछले पांच साल में मैं जो कुछ हासिल करना चाहता था वो मैंने हासिल किया. हम नंबर वन टेस्ट टीम हैं. ऐसा कोई देश नहीं है जहां हमें जीत ना मिली हो।''


उन्होंने कहा - हालांकि भारतीय क्रिकेट टीम का कोच बनना कुछ ऐसा ही है , जैसे कि आप किसी बंदूक के आगे बैठे हैं और वो कभी भी आप पर चल सकती है ।  आप सीरीज जीतते रहे. फिर एक दिन आप 36 रन पर ऑलआउट हो गए तो आगे आपके पास जीतने के अलावा कोई और ऑप्शन ही नहीं बचता है । 

विदित हो कि शास्त्री 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के बाद टीम इंडिया के मुख्य कोच बने थे । ऐसी खबर है कि बीसीसीआई ने रवि शास्त्री को दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए कोच बने रहने की पेशकश की थी , लेकिन शास्त्री ने इससे मना कर दिया है । ऐसे में अब ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि टीम इंडिया का कोच बनने की रेस में अनिल कुंबले बाजी मार सकते हैं । वहीं वीवीएस लक्ष्मण को भी इस कतार में देखा जा रहा है । 

Todays Beets: