Sunday, July 21, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

विश्वस्तरीय मुकाबलों में मेडल चाहिए तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए- विनेश फोगाट 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विश्वस्तरीय मुकाबलों में मेडल चाहिए तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए- विनेश फोगाट 

नई दिल्ली। देश में खेल सुविधाओं को लेकर मशहूर महिला पहलवान विनेश फोगाट ने बड़ा तंज किया है। विनेश फोगाट ने कहा कि पिछले कुछ सालों में खेल सुविधाओं में थोड़ा सुधार हुआ है लेकिन अगर विश्वस्तरीय खेलों में अगर मेडल जीतना है तो सुविधाएं भी वैसी ही होनी चाहिए। बता दें कि विनेश ने कहा कि खिलाड़ियों की  डाइट में थोड़ा सुधार हुआ है लेकिन खेल सुविधाएं वैसी ही हैं। उन्होंने कहा कि महासंघ के साथ इससे जुड़े दूसरे लोगों को भी ईमानदारी से काम करना होगा। 

गौरतलब है कि विनेश फोगाट इन दिनों बेहतरीन फाॅर्म में हैं और एशियन गेम्स से पहले उन्होंने 2 मुकाबलों में स्वर्ण पदक जीता है। इन दिनों वे लखनऊ में अभ्यास कर रही हैं। उनका कहना कि अभ्यास के लिए पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं, इस खेल में पसीना बहुत आता है और प्रैक्टिस हाॅल में गर्मी ज्यादा होने की वजह से उनकी फिटनेस प्रभावित होती है। 


एंडरसन-ब्राॅड के ‘तूफान’ में उड़े भारतीय कागजी शेर, एक पारी और 159 रनों से मिली करारी हार

यहां बता दंे कि विनेश फोगाट ने खेल सुविधाओं के विकास पर जोर देते हुए कहा कि जब तक खेल सुविधाओं का विकास नहीं किया जाएगा मेडल की उम्मीद करना बेकार है। विनेश ने इसके लिए सीधे तौर पर भारतीय कुश्ती महासंघ को जिम्मेदार नहीं ठहराया, उन्होंने कहा कि महासंघ के साथ इससे जुड़े दूसरे लोगों को भी ईमानदारी से काम करना होगा।  

Todays Beets: