Sunday, July 21, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

अलिगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी शुरू करेगी मौलवी बनाने का कोर्स , सेना में मिल सकेगी नायब सूबेदार रैंक पर भर्ती 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अलिगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी शुरू करेगी मौलवी बनाने का कोर्स , सेना में मिल सकेगी नायब सूबेदार रैंक पर भर्ती 

नई दिल्ली । देश की चर्चित यूनिवर्सिटी में से एक अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी(AMU) जल्द ही कुछ नए कोर्स की शुरुआत करने जा रहा है, जिसमें कोर्स करने वाले छात्रों को भारतीय सेना में मौलवी के पद पर सीधे आवेदन का मौका मिलेगा।  इससे मदरसों में पढ़ने वाले लड़कों के लिए सरकारी नौकरी का रास्ता भी खुलेगा। इतना ही नहीं सेना में उनकी भर्ती सीधे नायब सूबेदार की रैंक पर होगी। खबर है कि AMU नए शैक्षणिक सत्र से इस्लामिक चैपलिन नाम से एक साल का डिप्लोमा कोर्स शुरू करने जा रहा है। कॉलेज में इस कोर्स को करने के बाद बच्चों के सामने सेना सहित कई सरकारी महकमों में मौलवी का पद मिल सकेगा।

हालांकि इस सब के लिए एक बात अहम है कि एएमयू के इन नए कोर्स को करने के लिए ये मदरसे से आने वाले छात्र अदीब-कामिल या अदीब-माहिर यानी बीए के बराबर मदरसे की कोई डिग्री हो। इसके बाद ही ये छात्र एक साल का डिप्लोमा पा सकेंगे। खास बात ये भी है कि लड़कों के साथ-साथ लड़कियां भी इस कोर्स को कर सकेंगी।


जानकारी के मुताबिक , पहले चरण में इस कोर्स के लिए मात्र 10 छात्रों को लिया जाएगा, जिसमें 5 सीटें लड़कियो के लिए आरक्षित होंगी। इस कोर्स को करने वालों को सेना अस्पताल, जेल प्रशासन जैसे दूसरे जगहों पर नियुक्ति मिलेगी।  

Todays Beets: