Thursday, November 26, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

Bihar Election 2020 - नीतीश कुमार को पटखनी देने के लिए चिराग पासवान का नया दांव , परेशानी में सुशासन बाबू

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Bihar Election 2020 - नीतीश कुमार को पटखनी देने के लिए चिराग पासवान का नया दांव , परेशानी में सुशासन बाबू

पटना । बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar assembly election) में इस बार नीतीश कुमार के नेतृत्व को अस्वीकार करते हुए एनडीए से अलग हुए लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने सुशासन बाबू यानी जेडीयू प्रमुख को पटखनी देने के लिए अपना बड़ा दांव चला है । पहले चरण के लिए अभी दो दिन बचे हैं , लेकिन मतदान से पहले चिराग पासवान ने एक ट्वीट के जरिए बड़ी राजनीतिक चाल चली है । असल में चिराग ने दोहरी चाल चलते हुए कहा- आप सभी से अनुरोध है की जहां भी लोक जनशक्ति पार्टी के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे है उन सभी स्थानो पर #बिहार1stबिहारी1st को लागू करने के लिए हमारे प्रत्याशीयो को वोट दें व जिन सीटों पर हमने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं वहां भाजपा को वोट दें । उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- आने वाली सरकार #नीतीशमुक्त सरकार बनेगी।#असम्भवनीतीश । चिराग पासवान की इस चाल से जहां राजद को बड़ा झटका लगेगा वहीं बिहार के सुशासन बाबू को भी वोट की चोट लगेगी । 

बिहार की जनता के लिए भाजपा के 11 संकल्प , जानें कोरोना के निशुल्क टीकाकरण के साथ क्या किए वादे 

वोटर असमंजस में 

असल में इस बार सीटों के बंटवारे से नाराज चिराग पासवान ने पहले ही साफ कर दिया था कि वह नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनावी मैदान में नहीं जाएंगे । इसके बाद उन्होंने जेडीयू के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरने का ऐलान भी कर दिया । लेकिन इस सबके बीच अपने वोटरों को असमंजस की स्थिति में फंसाए रखने का दांव इस बार चिराग पासवान ने भी खेला । उन्होंने इस बार के चुनावों में जेडीयू का तो विरोध किया है लेकिन भाजपा के समर्थन में उतरने की बात लगातार की है । उन्होंने अपने ट्वीट से इस बात को जाहिर भी कर दिया है। पढ़ें क्या बोले चिराग पासवान 

 


RJD ने घोषणापत्र में लगाई वायदों की झड़ी , बेरोजगारों को भत्ता , किसान का कर्ज माफ की छूट , जानें खास बातें

 

# नीतीश मुक्त सरकार

अपने इस ट्वीट में चिराग पासवान ने नीतीश मुक्त सरकार बनाने का हैशटैग भी चलाया है । उनका कहना है कि इस बार के विधानसभा चुनावों के बाद बिहार में नीतीश मुक्त सरकार बनेगी । उन्होंने कहा कि जनता नीतीश कुमार के राज से परेशान हो चुकी है । बीते 15 सालों में बिहार को बेरोजगारी, गरीबी, अशिक्षा के अलावा कुछ नहीं मिला । हालांकि इस समय नीतीश कुमार भी एंटी इनकंबेंसी के मुद्दे को अहम मान रहे हैं। 

सरकार के साथ की जुगत में चिराग

भले ही चिराग पासवान लगातार नीतीश कुमार के विरोध में अपने बयान दे रहे हों , लेकिन वह भाजपा के खिलाफ कुछ भी नहीं बोल रहे । यहां तक कि चुनावों में पीएम मोदी की विचारधारा को ही आगे लेकर चलने की बात कह रहे हैं । ऐसा करके वह नीतीश विरोधी विचारधारा को अपने पक्ष में भी करने की रणनीति बना रहे हैं । इतना ही नहीं वह जानते हैं कि भाजपा के बिना इस नीतीश कुमार की सरकार नहीं बन सकती । इसलिए इस बार वह भाजपा को ही ज्यादा मजबूत करने पर काम कर रहे हैं ताकि नीतीश कुमार का कद छोटा हो और जब सरकार गठन पर मंथन हो तो उस दौरान उनकी पार्टी को भी भाजपा अपने साथ रखते हुए कुछ सम्मान भी दे । 

Todays Beets: