Friday, November 27, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

Bihar assembly election 2020 - नीतीश कुमार ने चुनावों में चला आरक्षण का दांव , कहा - आबादी के हिसाब से मिले आरक्षण 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Bihar assembly election 2020 - नीतीश कुमार ने चुनावों में चला आरक्षण का दांव , कहा - आबादी के हिसाब से मिले आरक्षण 

पटना । बिहार विधानसभा चुनावों में आरोप प्रत्यारोप , विकास का मुद्दा जमकर उछलने के बाद अब आखिरकार आरक्षण का मुद्दा भी उठ गया है । इस मुद्दे को और किसी ने नहीं बल्कि सुबे के सीएम नीतीश कुमार ने ही उठाया है । सीएम नीतीश कुमार ने अभी शेष दो चरणों के मतदान से पहले राज्य में आबादी के हिसाब से आरक्षण की वकालत की है । उनका कहना है कि उनकी हमेशा से यही राय रही है और वो इस पर कायम है कि जातियों को उनकी आबादी के हिसाब से ही आरक्षण मिलना चाहिए । हालांकि उनके इस बयान के बाद अब यह आने वाले दिनों में सियासी हंगामे का नया मुद्दा बनने वाला है ।

विदित हो कि बिहार विधानसभा चुनावों में वोटरों को रिझाने के लिए सभी दल नए नए ऐलान कर रहे हैं । लाखों नौकरी देना के वायदे किए जा रहे हैं , तो कुछ विकास के नए वादे कर रहे हैं । राजनीतिक दल रोजगार और कानून व्यवस्था से लेकर घोटालों का मुद्दा भी उठा रहे हैं । इस सबके बीच नीतीश कुमार ने आरक्षण का नया दांव चला है , जिससे उन्होंने चुनावों में नई बहस शुरू कर दी है । 

चुनाव प्रचार कर बिहार से लौटी अमीषा पटेल का आरोप - मेरा रेप हो सकता था , लोजपा उम्मीदवार ने बंधक बनाया


बता दें कि चुनावों के दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने वाल्मीकि नगर में कहा कि जातियों को आबादी के हिसाब से आरक्षण मिलना चाहिए । असल में वाल्मीकि नगर में थारू जाति के काफी वोट हैं और ये जाति जनजाति में शुमार करने की मांग उठा रही है । वह बोले - जनगणना हम लोगों के हाथ में नहीं है, लेकिन हम चाहेंगे कि जितनी लोगों की आबादी है, उस हिसाब से लोगों को आरक्षण मिले । इसमें हमारी कोई दो राय नहीं है । उन्होंने कहा - थारू को आरक्षण का फायदा दिलाने के लिए वो सालों से कोशिश कर रहे हैं। तब से जब से वो अटल सरकार में रेल मंत्री थे ।

सोनिया गांधी का बिहार की जनता के नाम वीडियो संदेश, कहा - अहंकार में डूबी हुई है नीतीश सरकार 

 

Todays Beets: