Saturday, January 29, 2022

Breaking News

   बिहार: खान सर के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, बोले- शिक्षकों पर केस दुर्भाग्यपूर्ण     ||   पंजाब: राहुल गांधी ने स्वर्ण मंदिर में माथा टेका, CM चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू भी साथ     ||   UP: मथुरा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- माफिया पर कार्रवाई से अखिलेश को दर्द हुआ     ||   सीएम योगी का सपा पर तंज- जो लोग फ्री बिजली देने की बात कर रहे, उन्होंने UP को अंधेरे में रखा     ||   अरुणाचल प्रदेश से कई दिनों से लापता छात्र चीनी सेना को मिला, भारतीय सेना को दी गई जानकारी     ||   हैदराबाद: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव, एक हफ्ते तक आइसोलेशन में रहेंगे     ||   नेताजी की प्रतिमा का पीएम मोदी ने किया अनावरण, कहा- हमारे सामने नए भारत के निर्माण का लक्ष्य     ||   'यूपी में सबसे ज्यादा महिलाएं असुरक्षित हैं', अखिलेश यादव का बीजेपी पर अटैक     ||   दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा- राहुल गांधी     ||   चन्नी चमकौर साहिब से चुनाव हार रहे हैं, ED को गड्डी गिनता देख लोग सदमे में हैं- अरविंद केजरीवाल     ||

बिहार - अगर आपके घर के मंदिर में बाहरी लोग करते हैं पूजा , तो ऐसे मंदिरों पर लगेगा 4 फीसदी टैक्स

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बिहार - अगर आपके घर के मंदिर में बाहरी लोग करते हैं पूजा , तो ऐसे मंदिरों पर लगेगा 4 फीसदी टैक्स

पटना । बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड (Bihar Rajya Dharmik Nyas Board) ने ऐसे मंदिरों के लिए नई व्यवस्था को लागू कर सकती है , जो घरों में बने हुए हैं और उन मंदिरों में बाहरी लोग भी पूजा करने आता हैं । बिहार सरकार ऐसे सभी मंदिरों पर चार फीसदी टैक्स लगाने की तैयारी कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार , राज्य के ऐसे सभी सार्वजनिक मंदिरों से टैक्स वसूलेगी । इसके लिए सभी सार्वजनिक मंदिरों को धार्मिक न्यास बोर्ड के तहत रजिस्ट्रेशन कराने की अपील की गई है । इतना ही नहीं एक बार रजिस्ट्रेशन हो जाने पर ऐसे सभी मंदिरों का संचालन न्यास बोर्ड के नियमों के अनुसार होगा। 

विदित हो कि अगर आपके घर में मंदिर बना है , जिसमें बाहरी लोग भी पूजा-करने आते हैं । ऐसे मंदिरों को सरकार सार्वजनिक मानने की योजना बना रही है । बिहार सरकार (Bihar Government) ऐसे सभी मंदिरों पर चार प्रतिशत टैक्स (Tax) लगाने की तैयारी है । आपको बता दें कि बिहार में मंदिरों का संचालन बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड द्वारा किया जाता है । वर्तमान में राज्य में केवल 4,500 के लगभग ही मंदिरों ने न्यास बोर्ड के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है । बावजूद इसके अभी भी ऐसे हजारों मंदिर हैं जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है । इनमें कई बड़े मंदिर भी शामिल हैं । धार्मिक न्यास बोर्ड अब इन मंदिरों को रजिस्ट्रेशन के दायरे में लाना चाहता है । 


असल में बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड बिहार के मंदिरों का संचालन करती है लेकिन उसकी अपनी आर्थिक स्थिति बेहतर नहीं है। कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण कार्यालय और भवन जर्जर हो गए हैं । घरों के अंदर बने मंदिरों में बाहर से पूजा करने आने वालों के कारण इसे सार्वजनिक कर टैक्स लगाने की तैयारी है जिससे कि धार्मिक न्यास बोर्ड को आर्थिक स्थिति में सुधार हो । 

Todays Beets: