Friday, June 18, 2021

Breaking News

   राम मंदिर ट्रस्ट में भी उठे जमीन खरीद पर सवाल, सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट     ||   यूपीः बसपा से बागी हुए 9 विधायक आज अखिलेश यादव से करेंगे मुलाकात     ||   वैक्सीन विवाद पर अखिलेश यादव बोले, पहले यूपी की सारी जनता को लग जाए, फिर मैं लगवा लूंगा     ||   कांग्रेस ने चिराग को दिया न्योता, एमएलसी प्रेम चंद बोले- उनके आने से बिहार में विपक्ष मजबूत होगा     ||   बिहार में कल से एक हफ्ते तक लॉकडाउन में ढील, लेकिन नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा     ||   पाकिस्तान: आपस में दो ट्रेन टकराईं, 30 की मौत, ट्रेन में अभी भी फंसे हुए हैं बहुत से यात्री     ||   उत्तराखंड: सुनगर के पास हुआ भारी भूस्खलन, गंगोत्री हाइवे हुआ बंद, खुलने में लगेगा वक्त     ||   विवादों में आई 'Family Man 2', बैन लगाने के लिए तमिल नेताओं ने Amazon को लिखा पत्र     ||   केरलः पीटी उषा की सीएम विजयन से अपील- सभी खिलाड़ियों, उनके कोच और स्टाफ को वैक्सीनेट किया जाए     ||   इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा, कोरोना की दूसरी लहर में 269 डॉक्टरों ने जान गंवाई     ||

कोलकाता - CBI दफ्तर पहुंची सीएम ममता बनर्जी , नारदा केस में TMC नेताओं को गिरफ्तार करने पर हंगामा 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कोलकाता - CBI दफ्तर पहुंची सीएम ममता बनर्जी , नारदा केस में TMC नेताओं को गिरफ्तार करने पर हंगामा 

कोलकाता । पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के प्रचंड बहुमत पाकर सत्ता में दोबारा आईं ममता बनर्जी ने अपनी सरकार के नए कार्यकाल की शुरुआत में ही अपने तीखे तेवर दिखाए । राज्य के नारदा केस सीबीआई द्वारा छापा मारकर टीएमसी के 4 नेताओं को गिरफ्तार करने के मामले में सोमवार सुबह ममता बनर्जी सीबीआई के दफ्तर पहुंच गई । इस दौरान उनके साथ कुछ अन्य नेता भी थे । इस दौरान जब उनसे सीबीआई दफ्तर आने का कारण पूछा तो ममता ने बड़े गुस्से में कहा कि इसका जवाब उन लोगों से पूछा जाए तो हमारे नेताओं को पूछताछ के लिए उठाकर लाए हैं । ममता ने सीबीआई के अफसरों से कहा कि बिना अनुमति इन चारों नेताओं को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है , अगर इन्हें गिरफ्तार किया है तो सीबीआई मुझे भी गिरफ्तार करे । 

बता दें कि ममता बनर्जी की सरकार बनने के साथ ही सीबीआई ने सोमवार को नारदा केस में टीएमसी के चार नेताओं  के घर छापे मारकर उन्हें गिरफ्तार किया था । इन नेताओं में कैबिनेट मंत्री फिरहाद हकीम , कैबिनेट मंत्री सुब्रत मुखर्जी , टीएमसी विधायक मदन मित्रा और पूर्व भाजपा नेता सोवन चटर्जी को गिरफ्तार कर सीबीआई दफ्तर लेकर आई । इन लोगों से पूछताछ शुरू ही हुई थी कि ममता बनर्जी अपने कुछ नेताओं के साथ सीबीआई के दफ्तर में पहुंच गई । 

ममता बनर्जी के एक वकील ने इस दौरान कहा कि सीएम ने साफ कर दिया है कि बिना कोर्ट और सरकार की मर्जी के उनके नेताओं को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है । अगर उन्हें गिरफ्तार किया गया है तो सीबीआई उन्हें भी गिरफ्तार करे । ममता का कहना है कि केंद्र सरकार इन एजेंसियों का इस्तेमाल करके बदले की राजनीति कर रही है । इस पूरे हंगामे के बीच ममता बनर्जी का कहना है कि उन्हें भी गिरफ्तार किया जाए । 


आपको बता दें कि कुछ साल पहले एक स्टिंग ऑपरेशन में कई नेताओं के कैमरे के सामने पैसे लेकर काम करवाने का खुलासा हुआ था । मैथ्यू सैमुअल के इस स्टिंग के जरिए कई नेताओं की कार्यशैली पर से पर्दा हटा था । पैसे लेकर काम करवाने वाले नेताओं में न केवल आज गिरफ्तार किए गए , चारों नेता थे बल्कि इन लोगों में वर्तमान में भाजपा में शामिल हो चुके पूर्व टीएमसी नेता मुकुल रॉय और सुब्रत अधिकारी भी शामिल थे । 

वहीं सामने आया है कि पिछले दिनों सीबीआई ने आज गिरफ्तार किए गए लोगों के खिलाफ पूछताछ की अनुमति मांगी थी , जिसे स्वीकृति मिलने के बाद आज यह कार्रवाई की गई है । 

इस दौरान सोवन चटर्जी के वकील का कहना है कि वह अब जो भी कहेंगे वह कोर्ट में कहेंगे । वहीं इस पूरे मामले को लेकर हंगामा जारी है । 

Todays Beets: