Wednesday, April 1, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

दिल्ली हिंसा पर केजरीवाल बोले – बाहरी लोगों ने आकर हिंसा को अंजाम दिया , मंदिर-मस्जिदों से हो शांति की अपील

अंग्वाल संवाददाता
दिल्ली हिंसा पर केजरीवाल बोले – बाहरी लोगों ने आकर हिंसा को अंजाम दिया , मंदिर-मस्जिदों से हो शांति की अपील

नई दिल्ली । दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले के जाफराबाद , बाबरपुर , करावल नगर , मौजपुर , गोकुलपुरी इलाकों में प्रचंड हिंसा पर राष्ट्रीय राजधानी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से शांति की अपील की है । उन्होंने इस दौरान - कुछ बाहरी लोगों के लगातार दिल्ली में प्रवेश करने और इस हिंसा को अंजाम देने की बात कही। केजरीवाल ने कहा कि सभी जिलों के जिलाधिकारियों को बॉर्डर इलाके पर कड़ी निगरानी के आदेश दिए गए हैं । इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रभावित इलाकों में लोकल पुलिस के साथ मिलकर स्थानीय विधायक और कुछ प्रबुद्ध लोग पीस बैठकें करें। इन इलाकों में स्थिति मंदिर मस्जिदों से शांति की अपील की जाए । इस सब के बाद सीएम केजरीवाल केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए चले गए।  

बता दें कि दिल्ली के पूर्वी जिले में पिछले 24 घंटे से जारी हिंसा में जहां 7 लोगों की मौत हो गई है , वहीं 45 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी घायल हो गई है । जिले के डीसीपी अमित शर्मा को गाड़ी से निकालकर उपद्रवियों ने उनकी गाड़ी में आग लगा दी थी और उनके साथ भी मारपीट की खबरें आईं थीं, जो कल से आईसीयू में भर्ती थे । मंगलवार सुबह खबर आई कि अब उनकी स्थिति थोड़ी स्थिर है ।

इस सब के बीच मंगलवार सुबह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मीडिया के सामने आकर लोगों से शांति की अपील की । उन्होंने कहा कि इस हिंसा को अंजाम देने के लिए कई बाहरी लोगों ने दिल्ली में प्रवेश किया है । इन लोगों को रोका जाना चाहिए । इसके लिए जिलों के जिलाधिकारियों को आदेश दे दिए गए हैं । इस दौरान केजरीवाल ने कहा कि लोग कुछ उपद्रवियों के बहकावे में न आएं । इस हिंसा में हमारी दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल शहीद हो गए हैं । इसके साथ ही 6 अन्य लोग भी मारे गए हैं । ये भी आप सब के बीच के  लोग थे । अगर स्थिति में सुधार नहीं आया तो कल किसी दूसरे का नंबर आ सकताहै । ऐसे में लोगों को चाहिए कि वे इस तरह की हिंसा से दूर रहें।


इससे पहले केजरीवाल ने आला अधिकारियों की एक आपात बैठक बुलाई ।  इस बैठक के बाद केजरीवाल ने कहा कि पुलिस को ऊपर से कार्रवाई का आदेश नहीं है, इसलिए वह उचित कार्रवाई नहीं कर पा रही है। सीमाई इलाकों से लोग दिल्ली आ रहे हैं और हिंसा कर रहे हैं। हमने बॉर्डर को सील करने और उपद्रवियों पर कार्रवाई की मांग की है ।

उन्होंने स्थानीय विधायकों से इलाकों में जाकर पुलिस और प्रबुद्ध लोगों के साथ पीस बैठक करने की बात कही। उन्होंने कहां कि मंदिरों और मस्जिदों से शांति की अपील की जाए।    

Todays Beets: