Thursday, July 16, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

योगी का सख्त आदेश - डॉक्टर-नर्स और पुलिस से दुर्व्यवहार करने वालों पर जो भी कड़ी कार्रवाई करनी हो , करें 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
योगी का सख्त आदेश - डॉक्टर-नर्स और पुलिस से दुर्व्यवहार करने वालों पर जो भी कड़ी कार्रवाई करनी हो , करें 

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान पुलिस वालों या स्वास्थ्य कर्मियों की टीम के साथ दुर्व्यवहार करने वालों और हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी । सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसके संबंध में फैसला लेते हुए साफ कर दिया कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ हमला करने वालों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है । इसके अलावा गाजियाबाद की घटना को लेकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी । उन्होंने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं । 

मिली जानकारी के अनुसार , सीएम योगी ने गाजियाबाद में तबलीगी जमात के लोगों द्वारा स्वास्थकर्मी से बदसलूकी किए जाने की घटना में कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं । गाजियाबाद में जिन लोगों ने ये हरकत की है , उस पर नाराजगी जाहिर करते हुए सीएम योगी ने निर्देश दिए हैं कि ऐसी प्रवृत्ति के लोगों के साथ पूरी सख़्ती हो और उन्हें कानून का पालन कराना सिखाया जाए । सीएम ने कहा कि इंदौर जैसी घटना यूपी में कहीं नहीं दिखनी चाहिए, इसके लिए कानूनन जो भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी हो उसे करें । 

विदित हो कि कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में पुलिसकर्मियों और चिकित्सा कर्मियों के साथ मारपीट और बदलसलूकी की घटनाएं सामने आ रही हैं ।  लॉकडाउन के दौरान प्रदेश में किसी भी स्थान पर पुलिस पर हमला करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है ।

बता दें कि शुक्रवार को अलीगढ और इससे पहले 1 अप्रैल को यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर निकलने के लिए मना करने पर कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला किया था । इसी क्रम में गाजियाबाद में तबलीगी समाज के लोगों को आईसोलेशन वार्ड में रखे जाने के दौरान स्वास्थ्यकर्मियों से दुर्व्यवहार करने का मामला सामने आया है । ऐसी खबरें हैं कि ये लोग स्वास्थकर्मियों के साथ अश्लील व्यवहार कर रहे हैं , और उल्टी सीधी मांग कर रहे हैं । यहां तक की आदेशों के बावजूद ये खुले में घूम रहे हैं ।  ऐसे में मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि प्रदेश में किसी भी स्थान पर पुलिसकर्मियों से मारपीट करने वाले लोगों पर एनएसए के तहत कार्रवाई की जाए । 


गाजियाबाद में जिला सरकारी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) ने घंटाघर कोतवाली में इस बारे में सूचना दी है । एमएमजी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पत्र लिखकर शिकायत की कि आइसोलेशन वार्ड में रखे गए कोरोना वायरस के संभावित मरीज जो तबलीगी जमात से ताल्लुक रखते हैं वो वार्ड में बिना कपड़ों के घूमते रहते हैं ।

एमएमजी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में रोके गए जमाती लोगों द्वारा अश्लील हरकतें करने, सहयोग ना करने आदि के संबंध में मुकदमा पंजीकृत करने हेतु थानाध्यक्ष को शिकायत दी गई थी. उसी क्रम में थाना कोतवाली गाजियाबाद में मामला दर्ज कर लिया है । 

इससे पहले मध्य प्रदेश के इंदौर में स्क्रीनिंग के लिए गए डॉक्टरों और नर्सों पर कुछ लोगों ने पथराव किया था , जिसकी वीडियो सोशल मीडिया में भी जमकर वायरस हो ररी हैं । 

Todays Beets: