Tuesday, November 12, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

चुनाव आयोग झारखंड में आज बजाएगी चुनावी बिगुल, विपक्षी दलों ने बनाई यह रणनीति

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चुनाव आयोग झारखंड में आज बजाएगी चुनावी बिगुल, विपक्षी दलों ने बनाई यह रणनीति

रांची । महाराष्ट्र - हरियाणा विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद आज शुक्रवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को प्रदेश के विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान कर सकते हैं। चुनाव की घोषणा के साथ झारखंड में चुनाव आचार सहिंता लागू हो जाएगी । अगर आज चुनाव आयोग चुनावों की तारीख का ऐलान करता है तो राज्य में आचार संहिता लागू हो जाएगी । जहां एक ओर राज्य में भाजपा फिर से राज्य की सत्ता पर काबिज होने के लिए अपनी रणनीति बना रही है , वहीं पूरा विपक्ष भी भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए अपनी रणनीति बनाने में जुटी है । इस दौरान सूत्रों का कहना है कि झारखंड विधानसभा चुनाव तीन चरणों में करवाए जा सकते हैं , जबकि पिछली बार 5 चरणों में चुनाव संपन्न हुए थे। इतना ही नहीं इस बार दिसंबर के पहले - दूसरे सप्ताह तक चुनाव संपन्न करवाए जा सकते हैं।

बता दें कि मुख्यमंत्री रघुवर दास जन आशीर्वाद यात्रा के जरिए बीजेपी के पक्ष में माहौल बनाने में जुटे हैं । वहीं भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए तमाम विपक्ष दल एकजुट होने की कवायद में है । झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष हेमंत सोरेन भी सत्ता पाने के लिए 'बदलाव यात्रा' पर निकले हैं । बात कांग्रेस की करें तो, कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष की कमान रामेश्वर उरांव को देकर आदिवासी और कार्ड खेला है । इसके अलावा बाबूलाल मरांडी की पार्टी जेवीएम अकेले चुनावी ताल ठोकने की तैयारी में है।


विदित हो कि राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास के नेतृत्व में भाजपा एक बार फिर से राज्य की सत्ता पर वापस आने को बेताब है । भाजपा ने राज्य की 81 विधानसभा सीटों में से अपने लिए मिशन-65 प्लस का लक्ष्य तय किया है । चुनावों में भाजपा-एजेएसयू गठबंधन चुनावी मैदान में उतर रहा है । 

Todays Beets: