Tuesday, July 16, 2019

Breaking News

   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||   मनी लॉन्ड्रिंग कानून से जुड़ी कांग्रेस सांसद की याचिका पर SC का केंद्र सरकार को नोटिस    ||   पीएम मोदी लोकसभा में ट्रिपल तलाक बिल पास करने के वक्त सांसदो की कम उपस्थिती पर नाराज    ||   सोनिया गांधी ने लोकसभा में रायबरेली की रेल कैच फैक्टरी का मुद्दा उठाया    ||   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||

चंबा में बादल फटा, जान-माल को भारी नुकसान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चंबा में बादल फटा, जान-माल को भारी नुकसान

शिमला। मानसून का मौसम पास आते ही पहाड़ के लोगों की मुश्किलें काफी बढ़ गई है। मूसलाधार बारिश ने हिमाचल में तबाही मचानी शुरू कर दी है। चंबा जिले में बादल फटने से लोगों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। उपमंडल चुराह में बादल फटने से 115 भैंसे पानी में बह गई।दरअसल जिस स्थान पर मवेशी आराम कर रहे थे, वहां पर देखते ही देखते जलस्तर काफी बढ़ गया। गुज्जर समुदाय के लोग समय की नजाकत को देखते हुए वहां से भाग गए। देखते ही देखते पानी ने बाढ़ का रूप धारण कर लिया, जिसमें 15 भैंसें बह गईं।

ये भी पढ़े-मुख्य सचिव मारपीट मामले में फंस सकते हैं सीएम और डिप्टी सीएम, दायर होगी चार्जशीट

यहा आपको बता दें कि घुमंतु गुज्जर पंजाब से अपने मवेशियों को लेकर एथन व पटाल धार जा रहे थे। लेकिन रास्ते में ही बादल फटने से उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ा। सुबह के समय गुज्जर समुदाय के लोगों ने घटना की जानकारी स्थानीय पंचायत प्रधान को दी। स्थानीय पंचायत प्रधान लता देवी व पूर्व प्रधान ध्यान सिंह ने मौके का जायजा लिया।


ये भी पढ़े-सीएम योगी ने मजार पर टोपी पहनने से किया इंकार, विपक्ष ने बनाया मुद्दा

ऐसे में प्रभावित लोगों ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है। इस पर पंचायत प्रधान लता देवी का कहना है कि घटना की जानकारी मिलते ही हमने मौके का जायजा किया लोगों की सहायता के लिए हम प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है। इस घटना के बाद लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि पहाड़ो पर चट्टान खिसकने से मनाली लेह हाईवे को बंद हो गया है जिस वजह से पर्यटकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

 

Todays Beets: