Friday, November 27, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

मध्य प्रदेश में उपचुनावों से पहले कांग्रेस को फिर झटका , विधायक ने पार्टी छोड़ भाजपा का कमल पकड़ा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मध्य प्रदेश में उपचुनावों से पहले कांग्रेस को फिर झटका , विधायक ने पार्टी छोड़ भाजपा का कमल पकड़ा

भोपाल । मध्य प्रदेश में उपचुनावों से पहले ही कांग्रेस के लिए एक झटके वाली खबर आई है । असल में कांग्रेस के एक और विधायक ने उपचुनावों से पहले ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया है । दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल सिंह ने रविवार दोपहर प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को अपना इस्तीफा सौंपा । हालांकि प्रोटेम स्पीकर ने उन्हें अपने फैसले पर विचार करने के लिए समय दिया है । दो दिन पहले प्रोटेम स्पीकर ने उन्हें अपने फैसले पर विचार करने के लिए दो और दिनों का समय दिया था इसकी समय सीमा खत्म हो गई है । इस तरह मध्य प्रदेश में एक और सीट खाली हो गई है , जिसमें इस बार के उपचुनावों में ही मतदान करवाया जाएगा । 

कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए मध्य प्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट करते हुए लिखा - असत्य पर सत्य की जीत के पर्व विजयादशमी पर आज दमोह से कांग्रेस के युवा विधायक राहुल ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर सत्य और विजय का रास्ता चुना है । भारतीय जनता पार्टी परिवार में सम्मिलित होने पर मेरी ओर से हार्दिक शुभकामनाएं।  


बता दें कि राहुल सिंह पहली बार जीतकर विधायक बने थे लेकिन महज डेढ़ साल के बाद ही रविवार को उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है । इसके बाद राहुल भाजपा में शामिल होने वाले हैं। खुद सिंधिया ने इसकी पुष्टि की । इससे पहले ही 25 विधायक कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में आ चुके हैं । इस सबके चलते ही एमपी में 3 नवंबर को 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होंगे ।  

Todays Beets: