Sunday, July 21, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

टिकट कटने से नाराज डॉ. उदित राज 5 घंटे बाद ही फिर बने चौकीदार , बगावती सुरों पर लगी लगाम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टिकट कटने से नाराज डॉ. उदित राज 5 घंटे बाद ही फिर बने चौकीदार , बगावती सुरों पर लगी लगाम

नई दिल्ली । लोकसभा चुनावों में उत्तर पश्चिम दिल्ली से टिकट नहीं मिलने से बगावती सुर अलापने वाले भाजपा सांसद उदितराज के गर्म तेवर कुछ ही घंटे बाद नरम पड़ गए हैं। टिकट कटने की खबरों के चलते उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था कि अगर भाजपा ने उनका टिकट काटा तो वह पार्टी छोड़ देंगे । मंगलवार सुबह उनकी जगह सीट से गायक हंस राज हंस को उम्मीदवार बनाए जाने पर उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल से चौकीदार शब्द को हटाते हुए फिर से डाक्टर उदित राज लिख दिया था लेकिन अब खबर है कि भाजपा नेताओं ने उन्हें मना लिया है । दोपहर 11 बजे चौकीदार शब्द हटाने के महज 5 घंटे बाद ही शाम 4 बजे उन्होंने दोबारा से अपने ट्वीटर हैंडल पर चौकीदार शब्द जोड़ लिया है ।

बता दें कि भाजपा ने मंगलवार दोपहर उत्तर पश्चिमी सीट से सूफी सिंगर हंस राज हंस के नाम का ऐलान किया था। इसके बाद इस सीट से पिछली बार सांसद बने उदित राज ने अपने ट्विटर हैंडल में नाम के आगे से चौकीदार हटा लिया था । उदित राज को टिकट मिलने पर संशय था, जिसपर उन्होंने ट्वीट करके भाजपा को चेताया था कि अगर उन्हें टिकट नहीं मिला तो वह भाजपा छोड़ देंगे। मंगलवार को दिल्ली में नामांकन की आखिरी तारीख होने से कुछ घंटे पहले इस सीट पर हंस राज हंस को सीट पर पार्टी का उम्मीदवार घोषित कर दिया ।

इससे नाराज होकर उदित राज ने ट्विटर पर अपना नाम बदल लिया, उन्होंने चौकीदार उदितराज की जगह.डॉक्टर उदित राज लिख दिया था । इससे पहले उन्होंने अपने टिकट कटने की खबरों के बीच कहा था कि अगर भाजपा ने टिकट नहीं दिया तो वे पार्टी छोड़ देंगे । वे आज ही नामांकन फॉर्म भरेंगे लेकिन किस पार्टी में जाएंगे इसका खुलासा बाद में करने की बात कही थी ।

उन्होंने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा था कि मैं भाजपा को नहीं छोड़ रहा बल्कि भाजपा मुझे छोड़ रही है । देशभर में मेरा संगठन है, मैं दलित चेहरा हूं ।  अरविंद केजरीवाल ने मुझे पहले ही आगाह करते हुए बता दिया था कि भाजपा मुझे टिकट नहीं देगी । वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी एक बार संसद में कहा था कि आप गलत पार्टी में हैं ।


 

बहरहाल, अब उदित राज को भाजपा ने मना लिया है, इसकी बानगी उनके बयानों में नजर आने लगी है । ऐसे में भाजपा ने एक बड़े दलित चेहरे को अपने से दूर जाने से रोक लिया है, जिसका लाभ भाजपा को इस सीट पर चुनाव में मिलेगा ।

 

Todays Beets: