Friday, August 23, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

अब देश के एक ओर राज्य में लागू हो जाएगी शराबबंदी , न शराब बेच सकेंगे न लोगों को पीने को मिलेगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब देश के एक ओर राज्य में लागू हो जाएगी शराबबंदी , न शराब बेच सकेंगे न लोगों को पीने को मिलेगी

आइजोल । देश के कई राज्यों में शराबबंदी को लेकर उठ रहे स्वरों के बीच एक नए राज्य में मद्यनिषेध विधेयक को मंजूरी मिल गई है। यह राज्य कोई और नहीं बल्कि मिजोरम है, जहां मिजोरम मंत्रिमंडल ने राज्य में प्रस्तावित मद्य निषेध विधेयक को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री जोरामथांगा की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मिजोरम मद्य निषेध विधेयक, 2019 को मंजूरी दी गई। अब इस विधेयक को 20 मार्च से शुरू होने वाले बजट सत्र के दौरान विधानसभा में पेश किया जाएगा।

बता दें कि मिजोरम की सत्तारूढ़ पार्टी मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) ने 2018 में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान वादा किया था कि सत्ता में आने पर वह मिजोरम में पूर्ण शराबबंदी लागू करेगी। अब सत्ता में आने के बाद अपने पहले बजट सत्र से पहले जोरामथांगा मंत्रिमंडल ने मिजोरम मद्य निषेध विधेयक, 2019 को मंजूरी दे दी है। अधिकारियों ने इस फैसले की शनिवार को जानकारी दी।


विदित हो कि मिजोरम में पूर्ण मद्य निषेध कानून लागू होने के बाद से राज्य में 1997 से लेकर जनवरी 2015 तक पूर्ण शराबबंदी थी। लेकिन राज्य में पिछली कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने के बाद राज्य में शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी थी। इस पर राज्य में कई तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आईं, बड़ी संख्या में लोगों ने फिर से मद्यनिषेद विधेयक लाने की मांग की थी। राज्य की MNF पार्टी ने सत्ता में आने के बाद अपने वायदे को निभाते हुए अब इस विधेयक को मंत्रिमंडल की मंजूरी दे दी है।

Todays Beets: