Friday, May 14, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

तेजस्वी सदन में बोले - 'अरे यार कैसे मंत्री बना देते है आप लोगों को , कुछ आता तो है नहीं , कहां से आते हो

अंग्वाल न्यूज डेस्क


तेजस्वी सदन में बोले -

पटना। बिहार विधानसभा चुनावों में सत्तारूढ़ गठबंधन को कड़ी टक्कर देने वाली राजद के नेता तेजस्वी यादव इन दिनों सरकार और सरकार के मंत्रियों पर लगातार हमला कर रहे हैं । इसी क्रम में सोमवार को सदन में गन्ना उद्योग से जुड़े मुद्दे पर अध्यक्ष की इजजात से तेजस्वी यादव सवाल पूछना चाहते थे , लेकिन इस दौरान सदन में सत्ता पक्ष के विधायकों के हो - हल्ले पर वह भड़क गए । उन्होंने इन विधायकों पर तंज कसते हुए कहा - अरे यार आप लोगों कैसे मंत्री बना दिया जाता है , कुछ आता जाता तो है नहीं आप लोगों को , कहां से आते हैं आप लोग , जवाब देना आपको आता नहीं है । यह बोलकर तेजस्वी अपने विधायकों के साथ सदन से वॉकआउट कर गए । इस पर राज्य के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर ने तेजस्वी के बयान की निंदा की । 

बता दें कि बिहार में जदयू - भाजपा की गठबंधन सरकार बनने के बाद से सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच लगातार जुबानी जंग जारी है । इसी क्रम में सोमवार को गन्ना उद्योग के मुद्दे पर तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष की मंजूरी लेते हुए सवाल पूछने की कोशिश की । लेकिन सत्ता पक्ष के विधायकों और विपक्षी दलों के विधायकों के बीच हो हल्ला जारी होने और इस दौरान तेजस्वी के अपना सवाल नहीं रख पाने पर वह झल्ला गए । इस बीच सत्ता पक्ष और विपक्ष के लोग हल्ला करते रहे , तो विधानसभा अध्यक्ष ने चेताते हुए कहा कि विधायक आसन को किसी तरह का निर्देश न दें । 

इस सबके बीच तेजस्वी यादव बौखला गए और उन्होंने सत्ता पक्ष के विधायकों और मंत्रियों पर तंज कसा और सदन से विधायकों के साथ वॉकआउट कर गए । इस पर सत्ता पक्ष के लोगों ने जमकर हंगामा किया ।


इस पूरे घटनाक्रम के बाद राज्य के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि सदन में यह गलत चलन शुरू हो रहा है । उन्होंने तेजस्वी यादव पर आरोप लगाया कि वो लगातार मंत्रियों के खिलाफ गलत शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं । मंत्रीगण सदन में जलील होने के लिए नहीं बैठे हैं । ऐसे सदन नहीं चलेगा , सिर्फ एक नेता को संरक्षण दिया जा रहा है । 

इस दौरान भाजपा और जदयू के विधायकों ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि आखिर वो अपने पिता के बल पर राज्य सरकार में मंत्री बन पाए। सत्ता पक्ष के नेताओं का कहना था कि तेजस्वी सिर्फ सवाल पूछते हैं और जवाब सुनने को तैयार नहीं होते बल्कि हंगामा शुरू कर देते हैं । 

उधर इस पूरे घटनाक्रम पर गन्ना उद्योग मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा की तेजस्वी के सवाल का मैंने पूरा जवाब दिया , लेकिन उनकी इस तरह की टिप्पणी इसलिए आई क्योंकि मैं अति पिछड़ी जाती से आता हूं । इसलिए मेरा अपमान किया गया , यह सिर्फ मेरा नहीं बल्कि 30 फीसदी अति पिछड़ी जाति के लोगों का अपमान है ।   

Todays Beets: