Sunday, October 20, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

टिकट नहीं मिलने पर संजय निरुपम भड़के , कहा- लगता है कांग्रेस को अब मेरी जरूरत नहीं , मैं नहीं करूंगा चुनाव प्रचार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टिकट नहीं मिलने पर संजय निरुपम भड़के , कहा- लगता है कांग्रेस को अब मेरी जरूरत नहीं , मैं नहीं करूंगा चुनाव प्रचार

मुंबई । महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों का ऐलान होने के साथ ही जहां भाजपा-शिवसेना ने अपने सीट बंटवारे के साथ ही उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है , वहीं कांग्रेस गुरुवार को एक बार फिर से अंतरविरोध और पसोपेश की स्थिति में नजर आई । महाराष्ट्र कांग्रेस में बगावती सुर उठने के साथ ही सत्तारूढ़ भाजपा-शिवसेना को हमले के लिए नया मुद्दा मिल गया है । असल में मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने टिकट नहीं मिलने पर महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के लिए प्रचार करने से इनकार किया है । उन्होंने विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने पर बगावती तेवर दिखाते हुए ट्वीट भी किया । उन्होंने गुस्से भरे लहजे में लिख डाला - शायद पार्टी अब मेरी सेवा नहीं चाहती।  

असल में सीटों के बंटवारे को लेकर कांग्रेस में जारी गतिरोध के चलते प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम का गुस्सा फूट गया । उन्होंने अपने ट्वीट के जरिए अपना भावनाएं सामने रखीं। उन्होंने लिखा - ऐसा लगता है कि अब कांग्रेस पार्टी मेरी सेवा नहीं चाहती है । मैंने विधानसभा चुनाव के लिए मुंबई में सिर्फ एक सीट मांगी थी, वो भी नहीं दी गई है । हालांकि मैंने कांग्रेस आलाकमान को पहले ही बता दिया था कि ऐसी स्थिति में मैं कांग्रेस पार्टी के लिए चुनाव प्रचार नहीं करूंगा । यह मेरा आखिरी फैसला है । 


निरुपम ने अपने ट्वीट में आगे लिखा - मुझे उम्मीद है कि कांग्रेस पार्टी को गुडबाय कहने का दिन अभी नहीं आया है । हालांकि कांग्रेस आलाकमान मेरे साथ जिस तरह का बर्ताव कर रहा है, उससे नहीं लगता है कि कांग्रेस में ज्यादा दिन तक रहूंगा । 

Todays Beets: