Friday, September 20, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

यूपी के नवनियुक्त मंत्री गिरिराज सिंह धर्मेश बोले- मायावती बिजली के नंगे तार की तरह , जो छुए - मर जाए 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी के नवनियुक्त मंत्री गिरिराज सिंह धर्मेश बोले- मायावती बिजली के नंगे तार की तरह , जो छुए - मर जाए 

आगरा । यूपी के नवनियुक्त मंत्री गिरिराज सिंह धर्मेश ने बसपा प्रमुख मायावती की तुलना बिजली के नंगे तार से की है । समाज कल्याण तथा अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति कल्याण राज्यमंत्री और आगरा कैंट सीट से विधायक का कहना है कि मायावती बिजली का ऐसा नंगा तार हैं, जिसे छूने वाला मर जाता है या नष्ट हो जाता है । उन्होंने मायावती पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वह बड़ी भ्रष्टाचार हैं । वह लोगों से ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के बाद उन्हें धोखा दे देती हैं । धर्मेश ने कहा, 'मायावती विश्वास योग्य नहीं हैं और उन्होंने सबको धोखा दिया है । 

पेशे से डॉक्टर धर्मेश 1994 में भाजपा से जुड़े थे और 2017 में उन्होंने पहली बार चुनाव जीते । आगरा में सरकार के नवनिर्वाचित मंत्री ने कहा मायावती ने लोकसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी (सपा) का उपयोग कर अपनी पार्टी को 10 सीटों पर पहुंचाकर उसे (सपा) धोखा दे दिया ।  उन्होंने कहा कि वह भाजपा के नेता दिवंगत बृह्मदत्त द्विवेदी थे, जिन्होंने प्रसिद्ध गेस्ट हाउस कांड में मायावती की जान बचाई थी । उन्होंने कहा कि भारतयी जनता पार्टी (भाजपा) ने ही उन्हें तीन बार मुख्यमंत्री बनने में सहायता प्रदान की थी । 


इसी क्रम में धर्मेश ने कहा कि बसपा के संस्थापक काशीराम का निधन रहस्यमयी परिस्थितियों में हुआ और वे जल्दी ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर इसकी सीबीआई जांच कराने की मांग करेंगे ।  

Todays Beets: