Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

अलीगढ़ मासूम हत्याकांड में बड़ा खुलासा , जाहिद ने हत्या के बाद फ्रीज में रखा बच्ची का शव! दो अन्य आरोपी भी गिरफ्तार

अंग्वाल संवाददाता
अलीगढ़ मासूम हत्याकांड में बड़ा खुलासा , जाहिद ने हत्या के बाद फ्रीज में रखा बच्ची का शव! दो अन्य आरोपी भी गिरफ्तार

अलीगढ़ । ढाई साल की बच्ची की बेरहमी से हत्या मामले ने जहां पूरे देश को हिला कर रख दिया है , वहीं पुलिस ने इस हत्याकांड में अब एक दो अन्य आरोपी को भी दबोच लिया है । गिरफ्तार किए गए इस शख्स का नाम मेहंदी है, जो इस हत्याकांड में आरोपी मोहम्मद जाहिद का भाई है । इस हत्याकांड की एसआईटी जांच में खुलासा हुआ है कि इन तीनों आरोपियों ने बच्ची के परिवार से बदला लेने के लिए बच्ची की बेरहमी से हत्या की थी । इस मामले में जाहिद और असलम ने बच्ची की हत्या की , जबकि मेहंदी और जाहिद की पत्नी ने हत्यारोपियों की मदद की थी । सामने आया है कि बच्ची की हत्या करने के बाद इन हत्यारोपियों ने उसके शव को घर के फ्रीज में छिपाकर रखा था । जाहिद की पत्नी के दुप्पटे में ही शव को लपेटकर बाहर फेंका गया था ।

ये है पूरा मामला

असल में 30 मई की शाम को खेलते-खेलते मासूम गायब हो गई थी । अगले दिन यानि 31 मई को घरवालों ने उसके लापता होने की शिकायत पुलिस से की । इसके बाद 2 जून को बच्ची की लाश उसी के घर के आसपास सड़ी गली हालत में कूड़े के ढेर में मिली । घरवालों का आरोप है कि पूरे दो दिनों तक पुलिस सुस्ती बरतती रही । मासूम की लाश मिलने से लोगों का गुस्सा फूटा तो पुलिस भी सक्रिय हुई । आनन फानन में पुलिस ने परिजनों की ओर से बताए गए संदिग्ध शख्स और इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी जाहिद को गिरफ्तार किया । पुलिस का दावा है कि इसने 5 हजार रुपयों के लिए सबक सिखाने की धमकी दी थी और इसी ने बच्ची को मार डाला । बाद में पुलिस ने जाहिद के साथी को भी गिरफ्तार कर लिया।

घर के फ्रीज को किया अच्छी तरह साफ

जांच में सामने आया था कि बच्ची के शव को नमी वाली जगह पर रखा गया था , ताकि शव से बदबू न आए । ऐसे में जांच एजेंसियों ने संभावना जताई है कि जाहिद ने हत्या के बाद बच्ची का शव अपने घर में मौजूद फ्रीज में छिपा दिया था। शव को जब बाहर फेंका गया तो उसके बाद फ्रीज की अच्छी तरह सफाई हुई है ,जिससे जांच एजेंसियों का शक इस ओर बढ़ गया है । इतना ही नहीं मासूम के शव को जिस दुप्पटे में लपेटकर फेंका गया था वह दुपट्टा जाहिद की पत्नी का ही था।


जाहिद को सट्टा किंग कहते हैं दोस्त

बता दें कि इस हत्याकांड के मुख्य आरोपियों में से एक मोहम्मद जाहिद जुआरी है । उसके दोस्त उसे सट्टा किंग कहते थे । वहीं दूसरा आरोपी मोहम्मद असलम भी इस वारदात को अंजाम देने से पहले कई वारदातों को अंजाम दे चुका है । उसे 2014 में पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है । उसे अपनी रिश्तेदार की बच्ची के साथ यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था । इतना ही नहीं उसपर 2017 में छेड़छाड़ और अपहरण का मामला दर्ज हुआ था ।

पांच पुलिस वाले सस्पेंड

अलीगढ़ के इस निर्मम हत्याकांड में लापरवाही बरतने के चलते 5 पुलिसवाले सस्पेंड हो चुके हैं। इनमें कुशलपाल सिंह (इंस्पेक्टर), सत्यवीर सिंह ( एसआई) अरविंद कुमार (एसआई), शमीम अहमद (एसआई), राहुल यादव (कांस्टेबल) हैं ।

 

 

Todays Beets: