Sunday, October 20, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर केले बेचने पर प्रतिबंध , आदेश न मानने वालों पर लगेगा जुर्माना, जानें क्या है पूरा माजरा 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर केले बेचने पर प्रतिबंध , आदेश न मानने वालों पर लगेगा जुर्माना, जानें क्या है पूरा माजरा 

लखनऊ । उत्तर रेलवे के अधिकारियों ने लखनऊ रेलवे स्टेशन में साफ सफाई के मद्देनजर एक अनोखा आदेश दे डाला है । असल में  चारबाग रेलवे स्टेशन प्रशासन ने स्टेशन के बाहर केले की बिक्री पर रोक लगा दी है । प्रशासन ने इस बात की भी चेतावनी दी है कि यदि कोई इस नियम को तोड़ते हुए पाया जाएगा तो उसे जुर्माने सहित सख्त कार्रवाई का भी सामना करना होगा । स्टेशन के अफसरों का ऐसा मानना है कि केले के छिलकों से गंदगी फैलती है और इसी के चलते उन्होंने यह आदेश जारी किया है। हालांकि रेलवे प्रशासन के इस फैसले का विक्रेता और यात्री इस कदम से खुश नहीं दिखाई दे रहे हैं। 

असल में स्टेशन पर सफाई को ध्यान में रखते हुए पिछले दिनों रेलवे स्टेशन प्रशासन ने स्टेशन के बाहर खड़े होने वाले सभी केला विक्रेताओं को आदेश दिए हैं कि वह उनके परिसर में दुकान न लगाएं । हालांकि इस आदेश के पीछे उनकी मंशा वहां केले के छिलकों से होने वाली गंदगी है , लेकिन स्टेशन आने वाले लोग रेलवे स्टेशन प्रशासन के फैसले से नाराज हैं। चारवाग स्टेशन पर आए एक शख्स ने कहा कई बार यात्री अपनी यात्रा पर जाने से पहले कुछ खा नहीं पाता तो वह स्टेशन पर आकर फल खा लिया करता था, लेकिन अब फलों के ठेले हटवा दिए गए हैं। ऐसे में स्टेशन पर मिलने वाला सामान खाने को लोग मजबूर हो रहे हैं। 

वहीं एक ठेले वाले का कहना है कि प्रशासन के आदेश के बाद से हम अपना ठेला नहीं लगा पा रहे हैं , दूसरी जगह ठेला लगाना भी आसान बात नहीं है , हमारे पास जो केले रखे थे वो अब खराब हो रहे हैं। 


वहीं एक यात्री ने कहा कि केला स्वास्थवर्धन और सुरक्षित फल है , जिसे यात्री बिना किसी झिझक के खा भी लेता है और अपने साथ यात्रा के लिए भी रख लेता है। अगर स्टेशन पर सफाई ही मुद्दा है तो यहां के शौचालयों और अन्य खाने पीने की दुकानों को भी हटा देना चाहिए । गंदगी तो उनके चलते भी होती है । 

 

Todays Beets: