Tuesday, August 4, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

मुंबई पुलिस ने 200 बारबालाओं का सड़क पर निकाला जुसूल , लोग बनाते रहे वीडियो

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुंबई पुलिस ने 200 बारबालाओं का सड़क पर निकाला जुसूल , लोग बनाते रहे वीडियो

मुंबई । खुद को दबंग पुलिसकर्मी दिखाने की फिराक में मुंबई से सटे मीरारोड स्थित काशीमीरा इलाके के वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर रामभाल सिंह ने इलाके के कई डांस बार में छापा मारकर वहां से करीब 200 बार- बालाओं को हिरासत में लिया । हालांकि इसके बाद उन्होंने जो किया वह नियमों के विपरीत था । इंस्पेक्टर ने इन सभी बार-बालाओं को सरकारी वाहन से थाने ले जाने के बजाए हाईवे पर ले जाकर इनका  जुलूस निकाला । ऐसे में सड़क से गुजरते लोग इन बार-बालाओं का वीडियो बनाते दिखे । वहीं कई लोग इन बार-बालाओं पर तंज कसते भी नजर आए । हालांकि पुलिस का कहना है कि इन सभी को थाने ले जाने के दौरान कुछ लोग इनका वीडियो बना रहे थे । इन सभी को सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार , बार में काम न करने की बात समझाने के बाद छोड़ दिया गया । हालांकि पुलिस इंस्पेक्टर द्वारा इनका जुलूस निकालने जाने पर कई संगठनों ने सवाल उठाए हैं। 

बता दें कि मीरारोड स्थित काशीमीरा इलाके में शनिवार रात स्थानीय थाने में नए नए आए इंस्पेक्टर रामभाल सिंह ने इलाके के डांस बार में छापेमारी की । इस दौरान उन्होंने करीब 200 बार बालाओं को हिरासत में लिया । इन्हें नियमानुसार सरकारी वाहन में बैठाकर थाने ले जाने के बजाए इंस्पेक्टर ने इन्हें मुंबई अहमदाबाद हाईवे पर ले जाकर उनका जुलूस निकाला । इस दौरान बड़ी संख्या में लोग इन बार बालाओं का वीडियो बनाते नजर आए । 


इस घटना का वीडियो भी इस समय सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। ऐसे में पुलिस इंस्पेक्टर की कार्यशैली पर सवाल उठाए जा रहे हैं । कहा जा रहा है कि उन्होंने नियमों की अनदेखी करते हुए बार बालाओं का जुलूस निकाला । 

इस पूरे घटनाक्रम पर पुलिस का कहना है कि उन्होंने दहिसर चेक नाका पर इन सभी बारबालाओं को ले जाया गया था , जहां इन सभी को डांस बार में काम नहीं करने की कोर्ट की गाइडलाइन के बारे में जानकारी देने के बाद छोड़ दिया गया । लेकिन कई संगठनों ने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा है कि आखिर इन बार बालाओं को नियमों की अनदेखी करते हुए उनका जुलूस निकालने का अधिकार पुलिस को किसने दिया ।  

Todays Beets: