Tuesday, November 30, 2021

Breaking News

   टीम इंडिया भी रद्द कर सकती है साउथ अफ्रीका दौरा? इस वजह से बढ़ी टेंशन     ||   CJI सीजेआई ने सरकार को दी ये नसीहत, कहा- तभी निडर होकर काम कर पाएंगे जज     ||   DNA: अमेरिका की महागरीबी का विश्लेषण, 17 प्रतिशत आबादी है गरीबी रेखा से नीचे     ||   कृषि कानूनों को रद्द करने का रास्ता साफ, लोक सभा में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पेश करेंगे बिल     ||   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||

मायावती बोलीं - सपा में जाने वाले मेर 6 बागी विधायक बरसाती मेंढक , इस आयात से होगा नुकसान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मायावती बोलीं - सपा में जाने वाले मेर 6 बागी विधायक बरसाती मेंढक , इस आयात से होगा नुकसान

लखनऊ । उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले सियासी चालों के बीच बहुजन समाज पार्टी के 6 विधायकों के समाजवादी पार्टी में शामिल हो जाने पर पार्टी प्रमुख मायावती बहुत बिफर गई हैं । ''बुआ'' ने अपने इन बागी विधायकों को बरसाती मेंढक करार देते हुए अपने भतीजे'' अखिलेश यादव को नसीहत देते हुए कहा कि इन आयात किए गए विधायकों से उन्हें कोई लाभ नहीं होने वाला , उल्टा नुकसान ही होने वाला है । 

मायावती ने अपने विधायकों का नाम लिए बिना उनपर ''ट्वीट बम'' के जरिए हमला किया । सुबे की सत्ताधारी पार्टी भाजपा के एक विधायक और अपने छह विधायकों के एक दिन पहले सपा में शामिल होने पर भड़की मायावती ने इन दल बदलू नेताओं के प्रति अपना गुस्सा जमकर जाहिर किया । उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा -  यूपी विधानसभा आमचुनाव नजदीक आने पर अब फिर से आएदिन दलबदलू लोगों के इस पार्टी से उस पार्टी में आने-जाने का दौर शुरू हो गया है किन्तु इससे किसी भी पार्टी का जनाधार बढ़ने वाला नहीं है बल्कि इससे उन्हें हानि ही होगी। अतः बीएसपी के लोग ऐसे बरसाती मेंढकों को पार्टी से दूर ही रखें।


अपने एक अन्य ''ट्वीट बम'' में उन्होंने लिखा - केवल दलबदलू ही नहीं बल्कि बरसाती मेंढकों की तरह अनेकों ऐसी पार्टियों के नाम भी लोगों को सुनने को मिल रहे हैं जिनके नाम अब तक देखने-सुनने को नहीं मिले थे। सत्ता लोलुपता के ऐसे खेल को जनता खूब समझती है व इससे उनपर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। परिवर्तन अटल है।

बहरहाल , बता दें कि बसपा के 6 विधायकों के चुनावों से पहले पार्टी छोड़कर सपा में जाने को पार्टी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है । पिछले विधानसभा चुनावों में बसपा को गिनती की सीटों पर जीत मिली थी , जिसके चलते यूपी में उनकी पार्टी का वजूद संकट में नजर आ रहा था , लेकिन अब उन विधायकों में से भी 6 के सपा में शामिल हो जाने से मायावती को बड़ा झटका लगा है । 

Todays Beets: