Friday, January 28, 2022

Breaking News

   बिहार: खान सर के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, बोले- शिक्षकों पर केस दुर्भाग्यपूर्ण     ||   पंजाब: राहुल गांधी ने स्वर्ण मंदिर में माथा टेका, CM चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू भी साथ     ||   UP: मथुरा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- माफिया पर कार्रवाई से अखिलेश को दर्द हुआ     ||   सीएम योगी का सपा पर तंज- जो लोग फ्री बिजली देने की बात कर रहे, उन्होंने UP को अंधेरे में रखा     ||   अरुणाचल प्रदेश से कई दिनों से लापता छात्र चीनी सेना को मिला, भारतीय सेना को दी गई जानकारी     ||   हैदराबाद: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव, एक हफ्ते तक आइसोलेशन में रहेंगे     ||   नेताजी की प्रतिमा का पीएम मोदी ने किया अनावरण, कहा- हमारे सामने नए भारत के निर्माण का लक्ष्य     ||   'यूपी में सबसे ज्यादा महिलाएं असुरक्षित हैं', अखिलेश यादव का बीजेपी पर अटैक     ||   दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा- राहुल गांधी     ||   चन्नी चमकौर साहिब से चुनाव हार रहे हैं, ED को गड्डी गिनता देख लोग सदमे में हैं- अरविंद केजरीवाल     ||

मायावती बोलीं - सपा में जाने वाले मेर 6 बागी विधायक बरसाती मेंढक , इस आयात से होगा नुकसान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मायावती बोलीं - सपा में जाने वाले मेर 6 बागी विधायक बरसाती मेंढक , इस आयात से होगा नुकसान

लखनऊ । उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले सियासी चालों के बीच बहुजन समाज पार्टी के 6 विधायकों के समाजवादी पार्टी में शामिल हो जाने पर पार्टी प्रमुख मायावती बहुत बिफर गई हैं । ''बुआ'' ने अपने इन बागी विधायकों को बरसाती मेंढक करार देते हुए अपने भतीजे'' अखिलेश यादव को नसीहत देते हुए कहा कि इन आयात किए गए विधायकों से उन्हें कोई लाभ नहीं होने वाला , उल्टा नुकसान ही होने वाला है । 

मायावती ने अपने विधायकों का नाम लिए बिना उनपर ''ट्वीट बम'' के जरिए हमला किया । सुबे की सत्ताधारी पार्टी भाजपा के एक विधायक और अपने छह विधायकों के एक दिन पहले सपा में शामिल होने पर भड़की मायावती ने इन दल बदलू नेताओं के प्रति अपना गुस्सा जमकर जाहिर किया । उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा -  यूपी विधानसभा आमचुनाव नजदीक आने पर अब फिर से आएदिन दलबदलू लोगों के इस पार्टी से उस पार्टी में आने-जाने का दौर शुरू हो गया है किन्तु इससे किसी भी पार्टी का जनाधार बढ़ने वाला नहीं है बल्कि इससे उन्हें हानि ही होगी। अतः बीएसपी के लोग ऐसे बरसाती मेंढकों को पार्टी से दूर ही रखें।


अपने एक अन्य ''ट्वीट बम'' में उन्होंने लिखा - केवल दलबदलू ही नहीं बल्कि बरसाती मेंढकों की तरह अनेकों ऐसी पार्टियों के नाम भी लोगों को सुनने को मिल रहे हैं जिनके नाम अब तक देखने-सुनने को नहीं मिले थे। सत्ता लोलुपता के ऐसे खेल को जनता खूब समझती है व इससे उनपर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। परिवर्तन अटल है।

बहरहाल , बता दें कि बसपा के 6 विधायकों के चुनावों से पहले पार्टी छोड़कर सपा में जाने को पार्टी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है । पिछले विधानसभा चुनावों में बसपा को गिनती की सीटों पर जीत मिली थी , जिसके चलते यूपी में उनकी पार्टी का वजूद संकट में नजर आ रहा था , लेकिन अब उन विधायकों में से भी 6 के सपा में शामिल हो जाने से मायावती को बड़ा झटका लगा है । 

Todays Beets: