Saturday, July 20, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगुसराय कोर्ट में किया सरेंडर

अंग्वाल संवाददाता
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगुसराय कोर्ट में किया सरेंडर

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता और बिहार के बेगुसराय से लोकसभा चुनाव लड़ रहे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मंगलवार सुबह बेगूसराय की व्यवहार कोर्ट के सीजेएम ठाकुर अमन कुमार की कोर्ट में सरेंडर कर दिया । गिरिराज सिंह पर आरोप है कि 24 अप्रैल को जीडी कॉलेज में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की सभा के दौरान वंदे मातरम को लेकर उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय पर विवादित बयान दिया, जिसके चलते उनपर नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था । कोर्ट में सरेंडर के बाद उन्हें जमानत मिल गई है ।

सुप्रीम कोर्ट का विपक्ष को बड़ा झटका , VVPAT पर 21 दलों की पुनर्विचार याचिका खारिज कर CJI बोले- एक ही मामले को बार-बार क्यों सुनें

विदित हो कि लोकसभा चुनावों में पहले लोकसभा सीट बदलने को लेकर नाराजगी के चलते सुर्खियों में रहे गिरिराज सिंह ने गत 24 अप्रैल को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ एक रैली को संबोधित करते हुए अल्पसंख्यक समुदायर के लिए एक विवादित बयान दिया था । इस पर उनके खिलाफ एक मामला दर्ज हुआ था । असल में गिरिराज सिंह ने चुनावी सभा में कहा था कि जो व्यक्ति वंदे मातरम नहीं कह सकता है, वह अपनी मातृभूमि की पूजा कैसे कर सकेंगा। उन्होंने कहा था, 'मेरे पिता और दादा की मृत्यु गंगा किनारे हुई थी और उन्हें कब्र की जरूरत भी नहीं पड़ी , लेकिन तुम्हे मरने के बाद भी तीन हाथ जमीन की जरूरत है । इसके बाद भी अगर ऐसा करते हो तो देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा।


बिहार में वोटिंग के दौरान होटल में दिखीं 6 EVM - VVPAT , पोलिंग बूथ एजेंट समेत लोगों का हंगामा , सेक्टर मजिस्ट्रेट को नोटिस जारी

उनके इस बयान के बाद चुनाव आयोग ने उनके खिलाफ नोटिस जारी किया था । उनके खिलाफ नगर थाने में मामला दर्ज हुआ था, जिसके बाद उन्होंने आज व्यवहार कोर्ट में सरेंडर कर दिया । सरेंडर करने पहुंचे गिरिराज सिंह ने कहा - मैं कानून का सम्मान करता हूं । गलतफहमी में मेरे ऊपर मामला दर्ज कराया गया है । उन्होंने कहा कि वंदे मातरम कहना देश में अपराध नहीं है। मैंने लोगों को सलाह दी थी ।

 

Todays Beets: