Wednesday, September 23, 2020

Breaking News

   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||   पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं: राज्यसभा में गृह मंत्रालय का बयान     ||   राजस्थान: बूंदी में चंबल नदी में नाव डूबने से 6 लोगों की मौत, 12 लोगों को रेस्क्यू किया गया     ||   मुंबई: बच्चन परिवार को अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराएगी मुंबई पुलिस     ||   राज्यसभा में BJP MP विनय सहस्रबुद्धे का बयान, महाराष्ट्र सरकार ही अवैध निर्माण का प्रतीक     ||   ग्रीनलैंड में सबसे बड़ा ग्लेशियर टूटा, चंडीगढ़ के बराबर बर्फ की चट्टान समुद्र में     ||   किसान बिल के विरोध पर बोले नड्डा- कांग्रेस पहले समर्थन में थी, अब राजनीति कर रही     ||   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||

कोरोना वॉरियर्स बनकर बिल्डर के 10 ठिकानों पर दबिश देने पहुंचे इनकम टैक्स अफसर , IPS अफसर का करीब है आरोपी 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कोरोना वॉरियर्स बनकर बिल्डर के 10 ठिकानों पर दबिश देने पहुंचे इनकम टैक्स अफसर , IPS अफसर का करीब है आरोपी 

भोपाल । आयकर विभाग की टीम ने गुरुवार सुबह मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बड़ी कार्रवाई करते हुए एक IPS अफसर के करीबी बिल्डर के घर-ठिकानों पर छापे मारे । हालांकि इस दौरान आयकर विभाग के अफसर , खुद को कोरोना वॉरियर्स बनकर बिल्डर के घर पहुंचे थे । आयकर विभाग के अफसरों ने बिल्डर के 10 ठिकानों पर एकसाथ छापे मारने के बाद वहां दस्तावेज खंगाले । बिल्डर के यहां छापा मारने के लिए आयकर विभाग की टीम दिल्ली से भोपाल गई थी । इस बिल्डर के खिलाफ कार्रवाई आय से अधिक की संपत्ति के मामले में की गई है  । 

मिली जानकारी के अनुसार , राज्य पुलिस के एक आईपीएस अफसर के करीबी फैथ बिल्डर एंड डवलपर्स के इंदौर और भोपाल के अलग-अलग  ठिकानों पर इनकम टैक्स की टीम ने सुबह पांच बजे के करीब से छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया । खास बात यह रही कि जिस वाहन में आयकर विभाग के ये अफसर आए , उसपर मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के स्टीकर लगे हुए थे। ऐसी इसलिए किया गया ताकि किसी को आयकर विभाग की इस कार्रवाई का अंदेशा न हो और बिल्डर को भी किसी तरह की कोई मुखबरी न हो सके ।

ऐसी सूचना है कि इनकम टैक्स की टीम बिल्डर के करीब 10 ठिकानों पर पहुंची। इस दौरान सभी के वाहनों पर स्वास्थ्य विभाग के स्टीकर लगे हुए थे और आयकर विभाग के कर्मी खुद को कोरोना वॉरियर्स बता रहे थे । 


असल में आयकर विभाग को यह ड्रामा इसलिए करना पड़ा क्योंकि इस बिल्डर की कई रसूखदार लोगों से जान पहचान है । उसके कुछ रिश्तेदार प्रदेश के बड़े पदों पर काबिज अधिकारी हैं। ऐसी सूचना है कि इस बिल्डर ने अपनी काली कमाई को सफेद करने के लिए कई अलग अलग व्यवसायों में इनवेस्ट किया है । 

सूचना है कि आयकर विभाग ने भोपाल में कुछ ऐसी कंपनियों के ठिकानों पर छापे मारे हैं , जो नाम मात्र की थी और दस्तावेजों में उनके पते इधर-उधर के लिखे हुए थे । इन सभी कंपनियों के ठिकानों पर भी आयकर विभाग की टीम पहुंची है । अभी भी जांच जारी है ।

Todays Beets: