Thursday, August 22, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

बिहार की राजनीति में हो सकता है बड़ा उथल-पुथल, बेटी ने ही खोला पासवान के खिलाफ मोर्चा 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बिहार की राजनीति में हो सकता है बड़ा उथल-पुथल, बेटी ने ही खोला पासवान के खिलाफ मोर्चा 

पटना। बिहार की राजनीति में बड़े उथल-पुथल के आसार नजर आ रहे हैं। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की बेटी ने ही उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पासवान की बेटी आशा पासवान का कहना है कि अगर राष्ट्रीय जनता दल की ओर से टिकट दिया जाता है तो वे अपने पिता के खिलाफ हाजीपुर से चुनाव लड़ेंगी। बता दें कि केंद्रीय मंत्री की बेटी ने अपने पिता और भाई चिराग पासवान पर भेदभाव का आरोप लगाया है। आशा पासवान ने कहा कि उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को चाचा कहा है और तेज प्रताप और तेजस्वी दोनों ही उसके छोटे भाई हैं।

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने 2 शादियां की हैं और आशा उनकी पहली पत्नी की बेटी हैं। बता दें कि पासवान की पहली पत्नी हाजीपुर में ही उनके पैतृक गांव में रहती हैं। अब बेटी आशा पासवान ने कहा कि उनके पिता अब दलितों के नेता नहीं रहे, अब वे सवर्णों के नेता बन गए हैं। आशा ने कहा कि उनके पिता सिर्फ उसके भाई चिराग पासवान को ही आगे बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं। गौर करने वाली बात है कि चिराग, रामविलास पासवान की दूसरी पत्नी के इकलौते बेटे हैं।


ये भी पढ़ें - राष्ट्रपति- प्रधानमंत्री से सम्मानित छात्रा के साथ गैंगरेप , कोचिंग से लौटते वक्त किया था तीन...

यहां बता दें कि आशा पासवान ने अपने पिता और भाई पर लड़कियों से भेदभाव करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि अगर राष्ट्रीय जनता दल की ओर से उन्हें टिकट दिया जाता है तो वे अपने पिता के खिलाफ ही हाजीपुर से चुनाव लड़ेंगी। आशा के पति ने भी रामविलास पासवान पर न सिर्फ उनका बल्कि दलितों का भी अपमान करने का आरोप लगाया है। 

Todays Beets: