Tuesday, November 12, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

सत्ता से फिर दूर होते कांग्रेसी दीपेंदर हुड्डा के भड़काऊ बोल- कहा- जो निर्दलीय BJP संग जाएगा उसे जनता जूते मारेगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सत्ता से फिर दूर होते कांग्रेसी दीपेंदर हुड्डा के भड़काऊ बोल- कहा- जो निर्दलीय BJP संग जाएगा उसे जनता जूते मारेगी

रोहतक । हरियाणा विधानसभा चुनावों में भाजपा बुहमत के जादुई आकंड़े से 6 सीट पीछे रह गई और मात्र 40 सीटें जीतकर अब सरकार गठन के लिए निर्दलीय और जेजेपी के विधायकों की ओर मुंह देख रही है । 6 निर्दलीय विधायकों के भाजपा को अपना समर्थन देने और अमित शाह के जेजेपी प्रमुख दुष्यंत चौटाला से मुलाका के बाद शुक्रवार सुबह दिल्ली में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भाजपा आलाकमान के साथ सरकार गठन के लिए अहम बैठक कर रहे हैं । इस सब के बीच कांग्रेसी नेता और पूर्व सीएम भुपेंद्र हुड्डा के बेटे दीपेंद्र हुड्डा ने प्रदेश की जनता को भड़काने वाला एक विवादित बयान दिया है । उन्होंने कहा कि जो निर्दलीय मनोहर लाल खट्टर सरकार में शामिल होने जा रहे हैं, वे अपनी राजनीतिक कब्र खुद ही खोद रहे हैं ।  वे जनता के भरोसे को बेच रहे हैं । ऐसा करने वालों को हरियाणा की जनता कभी माफ नहीं करेगी । लोग उनको जूतों से मारेंगे। 

विदित हो कि राज्य में त्रिशंकु सरकार के समीकरण बनने पर भूपिंदर सिंह हुड्डा ने अपील करते हुए कहा कि भाजपा को रोकने के लिए सभी विपक्षी दल कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाएं । वहीं जेजेपी ने भी प्रारंभिक रूझानों के अनुसार कांग्रेस से सीएम पद दिए जाने की शर्त रखते हुए गठबंधन की बात कही थी । हालांकि उनके सपनों को धक्का लगा गया , जब 6 निर्दलीय विधायक भाजपा को समर्थन देने के लिए आगे आ गए ।


भाजपा ने हालांकि इस बार पिछली बार की तुलना में खराब प्रदर्शन किया और मात्र 40 सीटों पर सिमट गई , जबकि भाजपा दावे 72 सीटें के कर रही थी । बहरहाल, खबर है कि आज शाम भाजपा विधायक दल की बैठक होगी , जिसमें खट्टर को विधायक दल का नेता चुना जाएगा । इसके बाद वह राज्यपाल से मुलाकात करेंगे और सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे । 

इस समय खट्टर दिल्ली में पार्टी आलाकमान के साथ बैठक कर रहे हैं।  सूत्रों का यह भी कहना है कि दिवाली के बाद मंत्रिमंडल का गठन हो सकता है । 

Todays Beets: