Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

दिल्ली चांदनी चौक में रातों रात सामने आया हनुमान मंदिर , सौंदर्यीकरण के नाम पर हटाया गया था

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिल्ली चांदनी चौक में रातों रात सामने आया हनुमान मंदिर , सौंदर्यीकरण के नाम पर हटाया गया था

नई दिल्ली । दिल्ली के चांदनी चौक में जिस हनुमान मंदिर के तोड़े जाने पर सत्तारूढ़ आप और भाजपा के बीच जुबानी जंग के साथ ही धरना प्रदर्शन का दौर शुरू हुआ था , वह मंदिर एकाएक रातों रात बनकर तैयार हो गया है । शुक्रवार को जब इलाके के लोग मंदिर के करीब की जगह से निकले तो उन्होंने हनुमान मंदिर को फिर से अस्तित्व में पाया । इस सबके बाद आज वहां पूजा करने वालों की भीड़ लग गई है । नए मंदिर को लोहे और स्टील से बनाया गया है । 

बता दें कि गत जनवरी में चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण के नाम पर हनुमान मंदिर को तोड़ दिया गया था , लेकिन उत्तर दिल्ली नगर निगम ने इस पर सफाई देते हुए कहा था कि मंदिर को तोड़ा नहीं गया है बल्कि शिफ्ट किया गया है । इसे लेकर आम आदमी पार्टी और भाजपा के नेताओं में काफी जुबानी जंग हुई । इतना ही नहीं इस मंदिर को दोबारा बनाए जाने के मांग करते हुए कई हिंदू संगठनों ने धरना प्रदर्शन भी किया था । 

इस मंदिर को लेकर भाजपा कांग्रेस समेत आम आदमी पार्टी के नेताओं ने एक दूसरे पर कई आरोप लगाए थे । असल में 2015 के कोर्ट के एक ऑर्डर में विकास कार्यों के आड़े आने वाले धार्मिक स्थलों को हटाने की बात कही गई थी , जिसे 2020 में फिर से दोहराया गया ।


इसी को आधार बनाते हुए चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण के काम में बाधक मानते हुए इस मंदिर को हटा दिया गया था , लेकिन करीब 50 साल पुराने इस मंदिर को लेकर काफी राजनीति हुई और आखिरकर अब जाकर यह मंदिर एक बार फिर से अपनी पूर्व की जगह पर ही नया बनकर तैयार हो गया है । स्थानीय लोगों ने इस मंदिर के फिर से बनने पर खुशी जाहिर की है । 

 

Todays Beets: