Thursday, October 22, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

हाथरस के बाद अब गोंडा में 'एसिड अटैक' पीड़ित बच्चियों के पिता बोले - पुलिस की जांच पर विश्वास नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हाथरस के बाद अब गोंडा में

गोंडा । लगता है राज्य में एक साजिश के तहत सुबे की योगी सरकार को निशाना बनाने के साथ ही सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने की लगातार साजिशें रची जा रही हैं । हाथरस कांड के बाद इससे जुड़े सबूत मिलने के बाद सोमवार देर रात एक दलित परिवार की तीन नाबालिग लड़कियों पर एसिड अटैक किया गया । लेकिन इस मामले में भी अब आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरूी हो गया है । एसिड अटैक के कारणों का अभी तक कुछ पता नहीं है , लेकिन मामले की जांच कर रही यूपी पुलिस पर फिर से सवाल उठने लगे हैं । इस कांड में पीड़ित लड़कियों के पिता ने कहा कि उन्हें यूपी पुलिस की जांच पर बिल्कुल भरोसा नहीं है । इस मामले की जांच किसी दूसरी जांच एजेंसी से करवाई जाए । 

बता दें कि गोंडा के परसपुर थाना अंतर्गत पसका परसपुर में एक दलित परिवार की तीन बेटियाों पर उस समय एसिड अटैक किया गया , जब वो सो रही थीं । इस एसिड अटैक में जहां दो बहनें मामूली रूप से घायल हुई हैं , वहीं एक के चेहरे पर एसिड गिरा है , जिसका स्थानीय जिला अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है । इस मामले में बड़ी बात यह है कि इस हमले के पीछे कोई कारण सामने नहीं आया है । हालांकि पुलिस टीम ने अपनी जांच शुरू कर दी है । 

 

यूपी में अशांति फैलाने की साजिश , अब गोंडा में तीन नाबालिग दलित बहनों पर ''एसिड अटैक'' , घटना...

पुलिस प्रशासन का कहना है कि यह किसी की साजिश हो सकती है, ताकि क्षेत्र में अशांति पैदा हो । इस सबके मद्देनजर इलाके में पुलिस बल सतर्क हो गया है । गोंडा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शैलेश कुमार पांडे का कहना है कि जिस केमिकल से तीनों लड़कियों पर हमला किया गया , उसकी जांच की जा रही है । घटनास्थल पर फोरेंसिक टीम पहुंच गई है । 


इस सबके बीच पीड़ित नाबालिग युवतियों के पिता ने यूपी पुलिस पर सवाल उठा दिए हैं । उन्होंने भी कहा कि उन्हें यूपी पुलिस की जांच पर बिल्कुल भरोसा नहीं है । इस मामले की जांच किसी अन्य जांच एजेंसी से करवाई जाए। उन्होंने मीडिया के सामने रोते हुए कहा कि हमारी तो किसी से कोई दुश्मनी भी नहीं है । सुबह से क्या हो रहा है मुझे कुछ नहीं बताया जा रहा । अब तक पुलिस ने इस मामले में कोई एफआईआर भी नहीं लिखी है । 

 

यूपी - सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर 31,661 शिक्षकों की भर्ती लिस्ट हुई जारी , फिर से हंगामे...

विदित हो कि हाथरस गैंगरेप कांड की आड़ में यूपी में दंगों की साजिश की बात कही जा रही है । जांच एजेंसियों ने आशंका जताई है कि कुछ लोग सुबे का सौहार्द बिगाड़ने के लिए साजिशें रच रहे हैं । हाल में मॉरिशस से यूपी में दंगों के लिए 50 करोड़ रुपये आने की बातों का भी खुलासा हुआ है । साथ ही हाथरस कांड के बाद दंगा भड़काने के आरोप में मथुरा से 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है । इतना ही नहीं कुछ और लोगों की भी गिरफ्तार हुई है।  

Todays Beets: