Friday, June 18, 2021

Breaking News

   राम मंदिर ट्रस्ट में भी उठे जमीन खरीद पर सवाल, सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट     ||   यूपीः बसपा से बागी हुए 9 विधायक आज अखिलेश यादव से करेंगे मुलाकात     ||   वैक्सीन विवाद पर अखिलेश यादव बोले, पहले यूपी की सारी जनता को लग जाए, फिर मैं लगवा लूंगा     ||   कांग्रेस ने चिराग को दिया न्योता, एमएलसी प्रेम चंद बोले- उनके आने से बिहार में विपक्ष मजबूत होगा     ||   बिहार में कल से एक हफ्ते तक लॉकडाउन में ढील, लेकिन नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा     ||   पाकिस्तान: आपस में दो ट्रेन टकराईं, 30 की मौत, ट्रेन में अभी भी फंसे हुए हैं बहुत से यात्री     ||   उत्तराखंड: सुनगर के पास हुआ भारी भूस्खलन, गंगोत्री हाइवे हुआ बंद, खुलने में लगेगा वक्त     ||   विवादों में आई 'Family Man 2', बैन लगाने के लिए तमिल नेताओं ने Amazon को लिखा पत्र     ||   केरलः पीटी उषा की सीएम विजयन से अपील- सभी खिलाड़ियों, उनके कोच और स्टाफ को वैक्सीनेट किया जाए     ||   इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा, कोरोना की दूसरी लहर में 269 डॉक्टरों ने जान गंवाई     ||

बंगाल के राज्यपाल धनखड़ बिफरे , बोले - ज्वालामुखी के मुख पर बैठे हैं लोग , अपना घर छोड़ने को हैं मजबूर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बंगाल के राज्यपाल धनखड़ बिफरे , बोले - ज्वालामुखी के मुख पर बैठे हैं लोग , अपना घर छोड़ने को हैं मजबूर

कोलकाता । पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीश धनखड़ राज्य में ममता बनर्जी की दूसरी बार सरकार बनने के बाद फिर से बिफऱ गए हैं । ममता के साथ अपने गतिरोध के लिए चर्चित राज्यपाल धनखड़ हाल में अपने काफिले के आगे टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध करने पर भड़कते नजर आए थे । राज्य में जारी हिंसा के बीच राज्यपाल धनखड़ ने ममता बनर्जी सरकार पर कटाक्ष मारते हुए कहा है कि इस समय प्रदेश की जनता ज्वालामुखी के मुख पर बैठी है । लोग अपना घर छोड़कर जाने को मजबूर हो गए हैं । उन्होंने कहा कि राज्य में ऐसा समय चल रहा है कि हम सो तक नहीं सकते । लोगों की हत्या , दुष्कर्म जैसी घटनाओं से अपमानित किया जा रहा है । 

राज्यपाल ने कहा कि जहां एक ओर राज्य कोरोना से जूझ रहा है, वहीं इस समय बंगाल में चुनावों के बाद प्रतिशोध वाली हिंसा नजर आ रही है । हमने पहले ऐसा कभी नहीं देखा । इस दौरान उन्होंने सीएम ममता बनर्जी से अनुरोध किया कि वह पूरी गंभीरता से इस मामले का संज्ञान लें । जो लोग पीड़ित है , उन्होंने पूरी तरह से मदद प्रदान करें । उनके लिए पुर्नवास स्थल , मुआवजा देकर राहत पहुंचाई जाए । उन्होंने कहा - यह कठिन समय है , लाखों लोग प्रभावित हैं, इन लोगों को जल्द से जल्द मदद पहुंचाई जाए । 


विदित हो कि पिछले दिनों बंगाल विधानसभा चुनावों में प्रचंड के बाद ममता की पार्टी टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने कई जगहों पर हिंसा की थी । इस दौरान भाजपा कार्यालयों और कार्यकर्ताओं को निभाना बनाया गया था । इस हिंसा में कई लोगों को चोट पहुंची थी , जबकि कुछ ही हत्या की भी बात सामने आई थी । इस सबपर पहले भी शपथ ग्रहण समारोह के दौरान राज्यपाल धनखड़ ने ममता को हिदायत दी थी । 

Todays Beets: