Sunday, July 21, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

बेटी की स्कूल फीस मांगने पर पति ने दिया तलाक, पुलिस ने मामला किया दर्ज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बेटी की स्कूल फीस मांगने पर पति ने दिया तलाक, पुलिस ने मामला किया दर्ज

लखनऊ।  उत्तरप्रदेश में मुस्लिम महिला पर अत्याचार का एक अनोखा मामला सामने आया है। उसके पति ने बेटी की स्कूल फीस मांगने पर उसक तलाक दे दिया। अब तलाक मिलने के बाद महिला और बेटी दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है। हालांकि पुलिस ने महिला के पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कर लिया है। महिला सुरक्षा के सरकार के तमाम दावे खोखले साबित हो रहे हैं। 

गौरतलब है कि मामला रुपईडीहा कस्बे के रहने वाले यूनूस की बेटी शगूफा का है। उसका निकाह 17 वर्ष पहले नौशाद से हुआ था। पति बेरोजगार था इसलिए उसने सिलाई-कढ़ाई करके पति के लिए आॅटो रिक्शा का बंदोबस्त किया। नौशाद आॅटो रिक्शा के जरिए परिवार की आर्थिक मदद करने के बजाय आॅटो ही जुए में हार गया। ऐसे में परिवार के सामने बड़ा आर्थिक संकट खड़ा हो गया। भरी आर्थिक संकट के बाद भी शगूफा अपनी बेटी को पढ़ाती रही लेकिन स्कूल की फीस जमा नहीं होने से उसे स्कूल से भी निकाल दिया गया। 

ये भी पढ़ें - दिल्ली-एनसीआर में 15 अगस्त के करीब आतंकी हमले का अलर्ट , योगी आदित्यनाथ भी हैं दहशतगर्दों के ...


बताया जा रहा है कि 3 अगस्त को शगूफा ने पति नौशाद के घर पर आने पर उससे स्कूल की फीस मांगी। फीस का बात सुनते ही नौशाद गुस्से से लाल हो गया और तीन बार तलाक बोलकर दोनों मां-बेटी को घर से बाहर निकाल दिया। इधर-उधर भटकने के बाद शगूफा रुपईडीहा थाने पहुंची और पति के खिलाफ तहरीर दी। तहरीर पर पुलिस ने पति के खिलाफ देर शाम घरेलू हिंसा का मुकदमा दर्ज किया है। फिलहाल वह एक रिश्तेदार के घर पर शरण ली हुई है।

 

पुलिस का कहना है कि महिला की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है और विवेचना में जो भी सच्चाई सामने आएगी उसके बाद कार्रवाई की जाएगी। 

Todays Beets: