Thursday, January 23, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

JNU हिंसा में पहला इस्तीफा , सीनियर वार्डन आर मीणा ने लिखा - मैंने सुरक्षा देने की कोशिश की लेकिन विफल रहा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
JNU हिंसा में पहला इस्तीफा , सीनियर वार्डन आर मीणा ने लिखा - मैंने सुरक्षा देने की कोशिश की लेकिन विफल रहा

नई दिल्ली । JNU कैंपस में रविवार शाम दो छात्र गुटों की हिंसा के बाद रात में नकाबपोशों द्वारा की गई हिंसा के बाद जहां दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है , वहीं इस हिंसा को लेकर अब इस्तीफे का दौर शुरू हो गया है । इस कड़ी में सबसे पहला नाम सामने आया है साबरमती हॉस्टल के सीनियर वार्डन आर मीणा का, जिन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है । मीणा ने अपने त्याग पत्र में कहा , मैं साबरमती हॉस्टल के सीनियर वार्डन के पद से इस्तीफा दे रहा हूं,  हमने हॉस्टल को सुरक्षा देने की कोशिश की लेकिन नहीं दे सके ।

 विदित हो कि रविवार रात हुई हिंसा (JNU Violence) 34 छात्र और शिक्षक घायल हो गए हैं ।  जेएनयू परिसर में रविवार शाम दो गुटों के भिड़ने के बाद रात में कुछ नकाबपोश युवकों ने साबरमती हॉस्टल पर हमला किया । कुछ नकाबपोश हमलावरों ने विश्वविद्यालय परिसर में घुसकर साबरमती हॉस्टल के छात्रों को निशाना बनाया । नकाबपोश पुरुषों और चेहरा ढकी महिलाओं ने छात्रावास के कमरे में तोड़फोड़ की और छात्रों की पिटाई की। 


बहरहाल, अब इस हिंसा को लेकर वामपंथी विचारधारा के छात्र और एबीवीपी के सदस्य एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं । दिल्ली पुलिस ने इस मामले एक एफआईआर दर्ज की है।  

Todays Beets: