Thursday, January 21, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

लालू यादव की जमानत अर्जी पर सुनवाई टली , कोर्ट ने लगाई 27 नवंबर की अगली तारीख

अंग्वाल संवाददाता
लालू यादव की जमानत अर्जी पर सुनवाई टली , कोर्ट ने लगाई 27 नवंबर की अगली तारीख

रांची । बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और चारा घोटाले में इन दिनों जेल में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई टल गई है । अब इस मामले की सुनवाई आगामी 27 नवंबर को होगी ।  असल में दुमका ट्रेजरी मामले में लालू यादव को 7 साल की सजा हुई थी । लालू के वकील ने सजा की आधी अवधि गुजर जाने को आधार बनाते हुए उनकी ओर से जमानत अर्जी दाखिल की है , जिस पर आज सुनवाई होनी थी , लेकिन सुनवाई को आगे की तारीख देकर टाल दिया गया है । 

इसी क्रम में सीबीआई लालू की जमानत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने की तैयारी कर रही है । चारा घोटाले के दोषी लालू यादव 5 में से 4 मामलों में दोषी करार दिए जा चुके हैं। लेकिन इन 4 मामलों में से 3 में उन्हें जमानत मिल चुकी है ।

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनावों में अपनी पार्टी और अपने बेटों को समर्थन देने के लिए लालू अगर जेल से बाहर आते तो इससे उनकी पार्टी को काफी लाभ होता । इससे इतर , उनके वकील ने उन्हें जमानत दिलवाने के लिए कोर्ट में एक अर्जी दाखिल की थी , लेकिन कोर्ट ने उसे खारिज कर दिया है । 


सुनवाई से पहले लालू यादव के वकील प्रभात कुमार ने कहा कि कुल सजा का आधा हिस्सा काट लिए जाने को आधार बताते हुए जमानत अर्जी दी गई थी ।  पिछले महीने झारखंड हाई कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाला से जुड़े चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में नियमित जमानत दी थी । 

विदित हो कि दुमका कोषागार से करोड़ों रुपये की अवैध निकासी के मामले में रांची सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू प्रसाद यादव को 7 साल की सजा सुनाई थी ।  अदालत के द्वारा लालू प्रसाद यादव पर जुर्माना भी तय किया गया था । लालू यादव को चारा घोटाला के तीन मामलों में जमानत मिल चुकी है । 

Todays Beets: