Monday, February 24, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

लखनऊ कोर्ट ब्लास्ट LIVE - वकीलों की आपसी रंजिश में हुई बमबारी , पीड़ित ने बताया पूरा किस्सा , सुरक्षा की मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लखनऊ कोर्ट ब्लास्ट LIVE - वकीलों की आपसी रंजिश में हुई बमबारी , पीड़ित ने बताया पूरा किस्सा , सुरक्षा की मांग

लखनऊ । यूपी की राजधानी लखनऊ स्थित वजीरगंज कोर्ट में गुरुवार दोपहर हुए बम धमाकों का सच खुद एक पीड़ित वकील ने मीडिया के सामने रख दिया है । कोर्ट में वकालत करने वाले अधिवक्ता संजीव लोधी ने बताया कि यह हमला उनके ऊपर किया गया है , जिसे जीतू यादव नाम के एक शख्स ने अंजाम दिया है। जीतू यादव ने कोर्ट में उसके ऊपर बम से हमला किया । उसके हाथ में तीन अन्य बम थे । इस हमले में कुछ वकील घायल हुए हैं । बहरहाल , पुलिस ने अधिवक्ता के बयान के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है , वहीं पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में जुट गई है । 

बता दें कि गुरुवार दोपहर लखनऊ की वजीरगंज कोर्ट में अचानक बम धमाकों की आवाज से कोर्ट परिसर हिल गया । धमाकों की आवाज के साथ ही वहां अफरातफरी मच गई , लेकिन बम की आवाज ज्यादा थी लेकिन वह घातक उतने नहीं थे । इस सब के बीच कुछ वकीलों की इस धमाके के कारण चोटिल होने की खबर तेजी से कोर्ट परिसर में फैल गई । लोगों ने घटनास्थल से तीन बम बरामत किए , जो सुतली से बंध हुए थे । शुरुआती दौर में ही खबरें आ गई थी कि ये कोई आतंकी हमला न होकर महज रंजीशन वारदात है ।

इस सब के बाद कोर्ट के अधिवक्ता संजीव लोधी मीडिया के सामने आए । उन्होंने बताया - जीतू यादव नाम के शख्स ने उनके ऊपर बम फेंका । मौके से जिंदा बम मिले हैं । इस हमले में वह तो बाल-बाल बच गए , लेकिन उन्हें जान से मारने की साजिश के तहत हमलावरों ने उनपर तमंचा तान दिया , लेकिन उनके साथी के बीच में आने से वह बच गए । वारदात को अंजाम देने के वाद हमलावर भाग गए।


बहरहाल, मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है. वकीलों के दो गुट मे विवाद था जिसकी शिकायत बुधवार को एक ग्रुप के वकील ने बार काउंसिल में की थी, जिसकी वजह से विवाद बढ़ा था । 

विदित हो कि वकील संजीव लोधी , जिनपर हमला हुआ है , वह बार काउंसिल के पदाधिकारी हैं । लखनऊ बार एसोसिएशन के संयुक्त मंत्री पर भी जानलेवा हमला हुआ है. आरोप है कि कोर्ट परिसर के अंदर संयुक्त मंत्री पर बम से हमला हुआ। वह आरोपी भी बार काउंसिल का सदस्य बताया जा रहा है । 

Todays Beets: