Thursday, January 23, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

आखिरकार मान गए शरद पवार , अजीत पवार को बनाया जाएगा महाराष्ट्र का डिप्टी सीएम , कैबिनेट विस्तार का रास्ता खुला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आखिरकार मान गए शरद पवार , अजीत पवार को बनाया जाएगा महाराष्ट्र का डिप्टी सीएम , कैबिनेट विस्तार का रास्ता खुला

मुंबई । महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी भाजपा विपक्ष में बैठ रही है , जबकि उनसे आधी सीटें लेकर आने वाली पार्टियों का गठबंधन सत्ता पर काबिज है । पिछले दिनों महाराष्ट्र के महारण के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को राज्य का नया मुख्यमंत्री बनाया गया , जबकि स्पीकर पद पर कांग्रेस का उम्मीदवार मनोनीत हुआ । इस पूरे घटनाक्रम में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने अपनी नाराजगी जताई थी , लेकिन अब खबर आ रही है कि पवार की नाराजगी अब खत्म हो गई है और वो अजीत पवार को राज्य का डिप्टी सीएम बनाने जा रहे हैं । आगामी 30 दिसंबर को वह पद और गोपनीयता की शपथ ले सकते हैं । इस सब के साथ ही अब माना जा रहा है कि सरकार गठन के करीब 1 माह बाद कैबिनेट का विस्तार भी हो सकता है । इस दौरान करीब 36 विधायक मंत्री पद की शपथ लेंगे । 

बता दें कि महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे को लेकर शरद पवार ने अपनी नाराजगी जताई थी । शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन वाली महा विकास अघाड़ी सरकार के लिए 29 नवंबर को उद्धव ठाकरे ने सीएम पद की शपथ ली , जबकि उनके साथ तीनों दलों के मात्र 2-2 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली । मंत्री पद के बंटवारे को लेकर शरद पवार की नाराजगी की बातें सामने आईं थी । उनका कहना था कि हम शिवसेना के लगभग बराबर सीट लाए और कांग्रेस कई सीटें कम , लेकिन एक का मुख्यमंत्री बन गया और एक का स्पीकर , ऐसे में हमारे साथ ठीक नहीं हुआ । हम शिवसेना के बराबर सीट लाए और हमें डिप्टी स्पीकर का पद दिया गया , जो किसी काम का नहीं । 


बहरहाल, राज्य में अब सरकार बने करीब 1 माह का समय होने जा रहा है और पवार की नाराजगी के साथ विभागों के बंटवारे को लेकर जारी मंथन के चलते अभी तक कैबिनेट विस्तार नहीं हो पाया था । इस सब के बीच अब खबर आ रही है कि शरद पवार की नाराजगी खत्म हो गई है और अपने कोटे से अजीत पवार को डिप्टी सीएम बनाने जा रहे हैं । मिली जानकारी के मुताबिक , आगामी 30 दिसंबर को कैबिनट का विस्तार होगा , जिसमें 36 विधायकों को मंत्री पद दिया जाएगा । इसमें 28 कैबिनेट तो 8 राज्य मंत्री बनाए जाएंगे । इनमें शिवसेना -एनसीपी के 13 -13 मंत्री होंगे , जिनमें 10 कैबिनेट और 3-3 राज्य मंत्री होंगे , जबकि कांग्रेस के 10 कैबिनेट और 2 राज्यमंत्री बनाए जाएंगे । 

बहरहाल , अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है । ऐसी संभावना जताई जा रही है कि मुख्यमंत्री खुद इसका ऐलान कर सकते हैं और आने वाले दिनों की तारीख का भी ऐलान कर सकते हैं  । 

Todays Beets: