Thursday, January 23, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

कमलनाथ सरकार में मंत्री बोले- देश में लोकतंत्र है , शराब पीने वालों पर कोई प्रतिबंध नहीं होना चाहिए

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कमलनाथ सरकार में मंत्री बोले- देश में लोकतंत्र है , शराब पीने वालों पर कोई प्रतिबंध नहीं होना चाहिए

भोपाल । भले ही देश के कई राज्यों में शराबबंदी की मांग उठ रही हो , बिहार-गुजरात के साथ ही कुछ अन्य राज्य अपने यहां भी शराबबंदी को लेकर विचार कर रहे हों , मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार के मंत्री का बयान कुछ और ही आया है । असल में कमलनाथ सरकार के सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह भोपाल में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा - देश में पीने वालों पर कोई प्रतिबंध नहीं होना चाहिए, क्योंकि कोई किसी को जबरस्ती शराब नहीं पिलाता है । असल में मंत्री जी का यह बयान ऐसे समय में आया है जब मध्यप्रदेश में शराब दुकानों की संख्या बढ़ने जा रही है । कमलनाथ सरकार ने शराब ठेकेदारों को शहरी और ग्रामीण इलाके में उप दुकान खोलने की सशुल्क अनुमति देने का प्रावधान किया है । इसी मुद्दे पर बात करते हुए सहकारिता मंत्री से यह बयान दिया।

गोविंद सिंह ने कहा कि देश में प्रजातंत्र है, देश में हर आदमी स्वतंत्र है । हर आदमी को अपनी इच्छा से खाने का और पीने का अधिकार है । हम इस पर कोई प्रतिबंध नहीं चाहते । इसलिए जिनको नहीं पीना उनको कोई जबरदस्ती तो पिलाता नहीं है।


अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए सहकारिता मंत्री ने कहा - अब जिनको पीना है, शौक करना है वे करें । जैसे हमारे एक मित्र कहते हैं जब तक हम एक पेग ना ले लें तब तक हम ठीक ही नहीं रहते । रात में बैचेनी रहती है, दिनभर हमें परेशानी रहती है । वो रात में केवल एक पैग पीते हैं और उससे अच्छी नींद आती हैं और दिन भर फुर्ती से काम करते हैं। 

बता दें कि कमलनाथ सरकार ने उप-दुकान खोलने का फैसला शराब की अवैध बिक्री पर रोक लगाने और राजस्व नुकसान की भरपाई करने के मकसद से उठाया है । हालांकि बीजेपी इसका कड़ा विरोध कर रही है और सरकार से फैसला वापस लेने की चेतावनी भी दे चुकी है । 

Todays Beets: