Tuesday, November 12, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

पटना - प्रशासन ने छठ के मद्देनजर गंगा नदी में तैनात किए NDRF के 450 जवान , 72 बोट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पटना - प्रशासन ने छठ के मद्देनजर गंगा नदी में तैनात किए NDRF के 450 जवान , 72 बोट

पटना । भगवान सूर्य की उपासना का महापर्व छठ को लेकर बिहार सरकार ने सभी जिले के प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं । इतना ही नहीं प्रशासन ने भी शांतिपूर्व इस पर्व को संपन्न कराने के लिए कमर कस ली है । इतना ही नहीं पटना में गंगा नदी के तट पर बने विभिन्न छठ घाटों पर कोई अनहोनी न हो इसे ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के 450 जवान तैनात किए गए हैं । इतना ही नहीं किसी आपात स्थिति से बचने के लिए 72 बोट के जरिए मनेर से केलकर दीदारगंज के घाटों निगरानी शुरू हो गई है।

पटना जिला प्रशासन ने पूरे पटना में 22 घाटों को खतरनाक घोषित किया है । इन घाटों को लाल कपड़ा लगाकर बंद कर दिया गया है । सारण, भोजपुर और बक्सर में एनडीआरएफ की तैनाती की गई है। वहीं पटना में छठ व्रतियों के लिए एक ऐप लॉन्च किया गया है । एप से व्रतियों और श्रद्धालुओं को कई सुविधाएं मिलेंगी । 


एनडीआरएफ के अफसरों के अनुसार , NDRF  के 450 जवान 6 घाटों पर तैनात किए गए हैं । वहीं 72 बोट के जरिए मनेर से केलकर दीदारगंज के घाटों निगरानी शुरू हो गई है। इसी क्रम में गंगा में 4 मेडिकल एम्बुलेंस की तैनाती की गई है । सांध्य अर्घ्य के लिए विशेष तैयारी की गई है. किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ की टीम तैयार है । 

पटना जिला प्रशासन ने पटना के 6 घाटों को दो जोन में बांटा है । इसके लिए दो सूची तैयार की गई है , जिसमें से एक सूची में उन घाटों की जानकारी है जहां छठ पूजा के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं । वहीं प्रशासन ने एक दूसरी सूची भी जारी की है , जहां खतरा बना हुआ है । जिला प्रशासन ने पूरे पटना में 22 घाटों को खतरनाक घोषित किया है ।  

Todays Beets: