Sunday, August 16, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

यूपी में ''आत्मनिर्भर रोजगार अभियान'' लॉंच , पीएम मोदी ने कहा - कामगार और श्रमिकों के लिए रोजगार के मौके

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी में

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यूपी सरकार के ‘आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान’ की शुरुआत की । इस अभियान को लॉन्च करने के दौरान पीएम मोदी ने कई मजदूरों के साथ संवाद किया । प्रदेश सरकार का दावा है कि इस योजना के तहत करीब सवा करोड़ मजदूरों को रोजगार मिलेगा । इस दौरान पीएम मोदी ने गोरखपुर के एक शख्स के बात की , जिससे उन्होंने कहा कि अहमदाबाद तो बढ़िया है, वापस क्यों आ गए । जवाब में मजदूर ने कहा कि कंपनी ही बंद हो गई थी, अब गोरखपुर आकर उन्होंने डेयरी खोलने के लिए लोन लिया है । इस दौरान पीएम मोदी ने कहा अब कामगार और श्रमिकों के लिए जिन योजनाओं को आगे बढ़ाने का मार्गदर्शन दिया था, अब रोजगार को बढ़ावा दिया जा रहा है ।

विदित हो कि कोरोना संकट और लॉकडाउन की वजह से करोड़ों मजदूर अपने घरों को वापस लौट आए हैं। अब उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से सूबे वापस लौटे मजदूरों को यहां ही काम दिया जा रहा है । असल में देश के अलग-अलग राज्यों से उत्तर प्रदेश में करीब 20 लाख से अधिक मजदूर वापस आए हैं । ऐसे में अब सरकार की ओर से कोशिश की जा रही है कि अधिकतर मजदूरों को प्रदेश में ही रोजगार दिया जाए । इसी क्रम में शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान की शुरुआत की ।

इस कार्यक्रम में यूपी सीएम ने कहा कि हमने प्रदेश में जितने भी प्रवासी श्रमिक आए हैं, 18 साल से कम बच्चों को छोड़कर लगभग 30 लाख मजदूरों की स्किल मैपिंग की गई है. इससे इन मजदूरों को काम देने में आसानी मिलेगी । 


इस दौरान आयोजित एक संवाद कार्यक्रम में पीएम मोदी ने यूपी के गोंडा की विनिता से बातची की । इस दौरान विनिता ने बताया कि उन्होंने कई महिलाओं के साथ मिलकर एक समूह बनाया है । हमें प्रशासन की ओर से सूचना मिली थी जिसके बाद हमने ये काम शुरू किया । इसी के बाद नर्सरी शुरू की और अब एक साल में 6 लाख रुपये की बचत होती है ।

इस क्रम में पीएम मोदी ने बहराइच के तिलकराम से बात की, जो खेती करते हैं । पीएम ने कहा कि पीछे बहुत बड़ा मकान बन रहा है, इसके बाद किसान ने कहा कि ये आपका ही है । आवास योजना से हमें इसका फायदा मिला है ।  तिलकराम ने बताया कि पहले झोपड़ी में थे लेकिन अब मकान बन रहा है तो परिवार काफी खुश हैं । इस पर पीएम मोदी ने कहाआपको मकान मिला है, लेकिन मुझे क्या दोगे । जवाब में किसान ने कहा - मैं दुआ करता हूं कि आप पूरी जिंदगी पीएम रहें । इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि आप हर साल मुझे चिट्ठी लिखें और बच्चों की पढ़ाई के बारे में बताएं ।

इसी क्रम में पीएम मोदी ने कुर्बान अली से पूछा कि इस बार मुंबई से वापस आकर रमजान घर में मनाया होगा, हालांकि मजदूर ने कहा कि वह कुछ ही दिन यहां बिता पाए । कुर्बान अली ने बताया कि हमें गांव में ही राजमिस्त्री का काम मिल गया है ।

Todays Beets: