Sunday, September 22, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

रामपुर रैली में आजम खान ने चुनाव आयोग पर लगाए आरोप , भाजपा नेता बोले तो ठीक - हमारे बोल गलत , EC का यह कैसा न्याय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रामपुर रैली में आजम खान ने चुनाव आयोग पर लगाए आरोप , भाजपा नेता बोले तो ठीक - हमारे बोल गलत , EC का यह कैसा न्याय

रामपुर । सपा नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान ने लोकसभा चुनावों के मद्देनजर रामपुर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार के साथ ही चुनाव आयोग को भी आड़े हाथों लिया । उन्होंने कहा कि कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सेना को 'पीएम मोदी की सेना' करार देते हैं , इतना ही नहीं केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी भी देश की सेना को लेकर कुछ ऐसा ही बयान देते हैं, लेकिन इनके खिलाफ चुनाव आयोग कोई कार्रवाई नहीं करता है। इतना ही नहीं भाजपा के दिग्गज नेता और राज्यपाल कल्याण सिंह के बिगड़े बोल पर भी अब तक चुनाव आयोग ने कोई कार्रवाई नही की, लेकिन मैंने कहा था कि हमारे देश की सीमा की रक्षा के लिए हम अपने खून की एक-एक बूंद बहा देंगे। तो इस बयान पर चुनाव आयोग ने नाराजगी जताई थी।  ये कैसा न्याय है?

नई पार्टी में जाने की खबरें अफवाह , मेरी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल है, थी और रहेगी - तेजप्रताप यादव

रामपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए आजम खान के निशाने पर जहां चुनाव आयोग था वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेताओं पर भी उन्होंने जमकर तंज कसे । उन्होंने कहा - भाजपा चुनाव जीतने के लिए कुछ भी कर सकती है।  वोट के लिए फौज का इस्तेमाल किया जा रहा है । भाजपा के नेता सारे दिन मुसलमानों को गाली दे रहे हैं। मुसलमानों को गाली देने के अलावा भाजपा दूसरा कोई काम नहीं कर रही है।


'नीतीश कुमार भाजपा छोड़ महागठबंधन में आना चाहते थे , बातचीत के लिए प्रशांत किशोर को कई बार भेजा लालू के पास'

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार आखिरकार यह बताने से क्यों बच रही है कि देश में विकास कितना हुआ है । भाजपा सरकार से देश की दूसरी आबादी परेशान हैं ।

 

Todays Beets: