Sunday, July 21, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

सुप्रीम कोर्ट से भाजपा को झटका , प. बंगाल में बोर्ड परीक्षाओं के दौरान नहीं बजा सकेंगे लाउडस्पीकर-माइक

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुप्रीम कोर्ट से भाजपा को झटका , प. बंगाल में बोर्ड परीक्षाओं के दौरान नहीं बजा सकेंगे लाउडस्पीकर-माइक

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा को झटका देते हुए आगामी बोर्ड परीक्षाओं तक पश्चिम बंगाल में लाउडस्पीकर और माइक लगाने की मांग को खारिज कर दिया है। पश्चिम बंगाल भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर बंगाल के रिहायशी इलाकों में लाउडस्पीकर और माइक के इस्तेमाल पर लगी रोक को हटाने की मांग की थी। चीफ जस्टिस रंजन गोगाई की बेंच ने भाजपा की मांग खारिज करते हुए कहा- स्कूलों में बोर्ड की परीक्षा के बहाने मार्च महीने के अंत तक पश्चिम बंगाल के हर इलाके में माइक और लाउडस्पीकर बजाने पर निषेधाज्ञा जारी करने संबंधी राज्य सरकार की अधिसूचना गलत है, जो कि राजनीति से प्रेरित है। 

असल में पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने अधिसूचना जारी की है, जिसमें स्कूलों में बोर्ड की परीक्षा के मद्देनजर राज्य में कहीं भी किसी भी तरह की माइक और लाउडस्पीकर बजाने पर निषेधाज्ञा जारी रखने को कहा है। ममता सरकार की इस अधिसूचना पर भाजपा का कहना है कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आवाज के मानकों के मुताबिक एक तय सीमा तक माइक और लाउडस्पीकर बजाने की इजाजत होती है लेकिन इस 90 डेसीबल से कम आवाज में माइक बजाने की अनुमति देने के बजाय एक साथ पूरे राज्य में किसी भी तरह का माइक और लाउडस्पीकर बजाने की निषेधाज्ञा पश्चिम बंगाल सरकार की सोची समझी रणनीति है।


असल में राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगे हैं कि प्रदेश सरकार एक रणनीति के तहत भाजपा को अपने चुनाव प्रचार से रोकना चाहती है। 

 

Todays Beets: