Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

सुशील मोदी के लालू की जमानत रद्द करने वाले बयान पर ‘प्रकट’ हुए तेजस्वी का हमला, पूछा क्या वे डाॅक्टर हैं?

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुशील मोदी के लालू की जमानत रद्द करने वाले बयान पर ‘प्रकट’ हुए तेजस्वी का हमला, पूछा क्या वे डाॅक्टर हैं?

पटना। कई दिनों से ‘लापता’ बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव वापस आ गए हैं। बताया जा रहा है वे विदेश गए हुए थे। वापस लौटते ही उन्होंने मौजूदा उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि ‘सुशील मोदी उनके पिता लालू यादव की जान के पीछे पड़े हुए हैं’। सुशील मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि देश की अन्य राजनीतिक पार्टियों ने फोनकर उनकी सेहत के बारे में जानकरी ली लेकिन इन्होंने एक बार फोन तक नहीं किया। यहां बता दें कि सुशील मोदी ने कहा था कि लालू यादव कोर्ट से मिली जमानत का उल्लंघन कर रहे हैं और बाकायदा राजनीतिक पार्टी के नेताओं से मिल रहे हैं ऐसे में इनकी जमानत रद्द कर देनी चाहिए। 

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने कहा कि सुशील मोदी को इतनी ज्यादा जमानत की फिक्र लगी है तो वे उनकी स्वास्थ्य रिपोर्ट देख लेें। यह तो अदालत के ऊपर है कि किसे जमानत देना है और किसे नहीं। एनडीए से अलग हो चुके टीडीपी के बारे में उन्होंने कहा कि उनके नेता चंद्रबाबू नायडू खुद लालूजी का हाल जानने नहीं पहुंच पाए तो उन्होंने अपने सांसदों को भेजकर जानकारी ली लेकिन सुशील मोदी ने एक बार फोन तक नहीं किया। 

ये भी पढ़ें - LIVE: हंदवाड़ा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, सेना ने पूरे इलाके को घेरा


यहां बता दें कि उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लालू यादव पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उन्हें इलाज के लिए कोर्ट से जमानत दी गई है जबकि वे राजनीतिक पार्टियों के नेताओं से रोज मिल रहे हैं। ऐसे में उनकी जमानत रद्द कर देनी चाहिए। सुशील मोदी के इस बयान के बाद तेजस्वी ने कहा कि ‘क्या वे डाॅक्टर हैं?’

गौर करने वाली बात है कि पिछले दिनों ऐसी खबरें आई थी कि तेजस्वी यादव कई दिनों से पटना से ‘लापता’ हैं। वे न तो विधानसभा में जा रहे हैं और न ही पार्टी के किसी कार्यक्रम में भाग नहीं ले रहे हैं। 

Todays Beets: