Friday, September 20, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

देहरादून - अब भवन - प्नतिष्ठान का नक्शा पास कराने से पहले रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाना होगा जरूरी

अंग्वाल संवाददाता
देहरादून - अब भवन - प्नतिष्ठान का नक्शा पास कराने से पहले रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाना होगा जरूरी

देहरादून । भूजल के गिरते स्तर को देखते हुए एमडीडीए (मसूरी देहरादून डेवलपमेंट अथॉरिटी) ने रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को सख्ती से लागू करने की योजना बनाई है। इस क्रम में अब लोगों को अपना मकान और व्यावासिक प्रतिष्ठान बनाने के साथ ही रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाना जरूरी होगा । असल में एमडीडीए नक्शे में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम दर्शाने की व्यवस्था लागू करने जा रहा है। अभी तक भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अनिवार्य तो है, लेकिन अधिकतर भवन स्वामियों ने रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं लगाया है। मौजूदा समय में छोटे से लेकर बड़े भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के लिए शपथ पत्र मांगा जाता है, जिसमें वह अपने भवन और प्रतिष्ठान को बनाने से पहले अपने भवन में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का शपथ पत्र देते हैं। 

विदित हो कि अब एमडीडीए हर भवन में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अनिवार्य करने जा रहा है, बगैर इसके नक्शा पास नहीं किया जाएगा। अभी कितने एरिया पर कितना बड़ा या छोटा सिस्टम लगाना है, इस पर कार्य चल रहा है। जल्द ही इसे लागू किया जाएगा। 


बता दें कि अब से पहले एक व्यवस्था तो थी लेकिन एमडीडीए की टीम भी मौके पर जाकर जांच नहीं करती । लेकिन एमडीडीए के अफसरों का कहना है कि अब ऐसा नहीं होगा । नक्शा पास कराने के लिए उसमें रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का स्थान दर्शाना होगा। एक हजार से तीन हजार वर्ग फीट में बने भवन में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने में 15 से 25 हजार रुपये का खर्च आता है। इसके लिए गड्ढा खोदने, रेत, बजरी, पाइप और जाली की जरूरत होती है। 

Todays Beets: