Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में 1000 करोड़ के निवेश को दी सहमति, जल्द ही साइन होंगे समझौते

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में 1000 करोड़ के निवेश को दी सहमति, जल्द ही साइन होंगे समझौते

देहरादून। उत्तराखंड में विकास की रफ्तार जल्द ही तेज होगी। अगले महीने होने वाले इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में एग्रो सेक्टर में करीब 1000 करोड़ रुपये के निवेश की सहमति दे दी है। राज्य का कृषि विभाग इस निवेश को लेकर जल्द ही एमओयू पर साइन किया जाएगा। खबरों के अनुसार इंवेस्टर्स समिट से पहले कृषि विभाग को करीब 1500 करोड़ के निवेश का लक्ष्य दिया गया था लेकिन समिट के शुरू होने से पहले ही विभाग ने अदानी और दूसरी कंपनियों के साथ करीब 1650 करोड़ रुपये के निवेश पर सहमति हासिल कर ली है। 

गौरतलब है कि इंवेस्टर्स समिट के जरिए सरकार ने कृषि, बागवानी, ऐरामेटिक, पर्यटन, आयुष, वेलनेस, सोलर ऊर्जा, ऑटोमोबाइल, फिल्म इंडस्ट्री, इलेक्ट्रिक वाहन, फूड प्रोसेसिंग, आईटी, बायोटेकभनोलॉजी, स्वास्थ्य, शिक्षा के क्षेत्र में अलग-अलग निवेश का लक्ष्य निर्धारित किया है। अब अदानी ग्रुप ने कृषि के क्षेत्र में 1000 करोड़ रुपये का निवेश करने पर अपनी सहमति दे दी है।  कृषि विभाग की ओर से जल्द ही इस समझौते पर दस्तखत किए जाएंगे। 

ये भी पढ़ें - नियुक्ति न मिलने से नाराज अतिथि शिक्षकों ने किया आंदोलन का ऐलान, निदेशालय में आज करेंगे तालाबंदी


यहां बता दें कि अदानी के अलावा सारडोनेक्स एग्रो टेक ने 400 करोड़ का निवेश सहमति दी है। इंडोनेशिया की इंडो इन कंपनी, इंदौर की एडवांस ग्रुप आफ कंपनी, जुविलेंट कंपनी समेत अन्य तमाम कंपनियों की ओर से निवेश के प्रस्ताव कृषि विभाग को मिले हैं। इसके अलावा नेचुरल हैंप (भांग) बिच्छू घास(कडाली), भीमल से तैयार होने वाले फाइबर पर आधारित उद्योग लगाने में निवेशकों ने रुचि दिखाई है। 

 

Todays Beets: