Wednesday, July 17, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

सीएम रावत ने देहरादून स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से जुड़ी योजनाओं की समीक्षा की, कहा- सड़कों की बार-बार खुदाई से बचने के लिए परमानेंट डक्ट बनाए

अंग्वाल संवाददाता
सीएम रावत ने देहरादून स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से जुड़ी योजनाओं की समीक्षा की, कहा- सड़कों की बार-बार खुदाई से बचने के लिए परमानेंट डक्ट बनाए

देहरादून । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को विधानसभा में देहरादून स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत निर्मित होने वाली स्मार्ट रोड, मल्टी यूटिलिटी डक्ट, ड्रेनेज तथा जलापूर्ति एवं सीवरेज से संबंधित योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि शहर को सुविधा युक्त बनाने के लिये इन योजनाओं पर विशेष ध्यान दिया जाए तथा इसके क्रियान्वयन में विषय विशेषज्ञों का सहयोग लेन के साथ ही भारत सरकार की तकनीकि दक्षता युक्त संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाय। सीएम ने इस दौरान कहा कि विभिन्न विभागों द्वारा विद्युत तार, पेयजल लाईन, सीवर, टेलीफोन आदि हेतु सड़कों की खुदाई करा दी जाती है। इसको रोकने के लिये सभी मुख्य मार्गों पर परमानेंट डक्ट बनाने से बेहतर जन सुविधाओं के विकास में मदद मिलेगी। 

समीक्षा के बाद सीएम ने कहा कि बिजली, पानी, टेलीफोन व विद्युत लाइनों के जाल के साथ ही सड़कों पर बेतरतीब खड़े बिजली के खंबों के हटने से भी यातायात संचालन में सुविधा रहेगी। इस दौरान उन्होंने भविष्य की जरूरतों को देखते हुए सड़कों के अंदर नए सिरे से सीवर लाइन बिछाने तथा शहर का बेहतर ड्रेनेज प्लान बनाने स्मार्ट सिटी के तहत होने वाले कार्यों में पारदर्शिता व गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखने के भी निर्देश दिए। 


मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड आने वाले लोग प्रदेश की अच्छी छवि लेकर वापस जाएं। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास गंदगी, जल भराव और सडकों की समस्याओं से पूर्ण रूप से छुटकारा दिलाना है। उन्होंने जनता की समस्याओं को चिन्हित कर उसके तत्काल समाधान वाला सिस्टम बनाये जाने पर भी बल दिया।  

Todays Beets: