Tuesday, July 16, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

बेंगलुरु में क्रैश हुए मिराज-2000 में देहरादून के स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी की मौत, पंडितवाड़ी में छाया मातम

अंग्वाल संवाददाता
बेंगलुरु में क्रैश हुए मिराज-2000 में देहरादून के स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी की मौत, पंडितवाड़ी में छाया मातम

देहरादून । बेंगलुरु में शुक्रवार सुबह हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के एयरपोर्ट पर वायुसेना का एक लड़ाकू विमान मिराज 2000 ट्रेनी फ्लाइट के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें विमान को उड़ा रहे दो स्क्वाड्रन लीडर की मौत हो गई थी। इनमें से एक स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी थे, जो उत्तराखंड , देहरादून के पंडितवाड़ी के रहने वाले थे। सिद्धार्थ नेगी की शादी डेढ़ साल पहले ही हुई थी। उनकी मौत के बाद अब पूरे इलाके में मातम छाया हुआ है। 

बता दें कि शुक्रवार सुबह वायुसेना के लड़ाकू विमान मिराज 2000 ने ट्रेनी उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के साथ ही विमान में एक जोरदार धमाका हुआ, जिसके बाद विमान में आग लग गई थी। इस लड़ाकू विमान को स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी और स्क्वाड्रन लीडर एबरॉल उड़ा रहे थे। विमान में आग लगने के साथ ही दोनों ने विमान को पहले एचएएल के एयरपोर्ट की ओर ही मोड़ा ताकि वह रिहायशी इलाके में क्रैश न हो, इसके साथ ही दोनों विमान से निकलने की कोशिश में जुटे, लेकिन विमान में हुए धमाके के चलते लोगों गंभीर रूप से झुलस गए थे। इसके चलते दोनों विमान ने निकल नहीं पाए। 


इस घटना में एक स्क्वाड्रन लीडर की विमान के क्रैश होने के बाद उसी के मलबे में गिरने से मौत हो गई, जबकि दूसरे को गंभीर हालात मे अस्पताल में ले जाया गया लेकिन उसने भी दम तोड़ दिया। 

बता दें कि इस दुर्घटना का शिकार हुए सिद्धार्थ नेगी के पिता बलबीर सिंह नेगी देहरादून की एक शैक्षणिक संस्थान में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी हैं। 

Todays Beets: