Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

मनीष खंडूरी की गाड़ी से उड़नदस्ते ने कांग्रेस का झंडा उतरवाया , नहीं दिखा पाए थे अनुमति पत्र

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मनीष खंडूरी की गाड़ी से उड़नदस्ते ने कांग्रेस का झंडा उतरवाया , नहीं दिखा पाए थे अनुमति पत्र

चमोली । लोकसभा चुनावों का प्रचार करने के लिए चमोली के पीपलकोटी बाजार में रोड शो करने जा रहे कांग्रेसी नेता और पौड़ी गढ़वाल सीट से उम्मीदवार मनीष खंडूरी की कार से उड़नदस्ता दल ने कांग्रेस का झंडा उतार लिया। उड़नदस्ता दल की ओर से की गई इस कार्रवाई पर कांग्रेस ने खासी नाराजगी जताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की है। पार्टी का कहना है कि राज्य के सत्तारूढ़ दल की शह पर उड़नदस्ते ने कांग्रेसी नेता के साथ ऐसा व्यवहार किया है।

असल में घटना मंगलवार दोपहर की है । जोशीमठ में चुनाव प्रचार करने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी मनीष खंडूड़ी जब पीपलकोटी बाजार पहुंचे, तो वहां पर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। इस बीच उड़नदस्ता टीम वहां पहुंच गई। इस टीम ने उनकी कार में लगा कांग्रेस का झंडा उतार लिया । इस पर कांग्रेस ने सत्तारूढ़ भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि सत्ताधारी दल के दबाव में उड़नदस्ते ने यह कार्रवाई की गई है। चुनाव आयोग से की गई शिकायत में कांग्रेस ने पार्टी उम्मीदवार खंडूड़ी के ड्राइवर का ड्राइविंग लाइसेंस जब्त करने का आरोप लगाया गया है।

वहीं इस टीम के प्रभारी दीपक कुमार का कहना है कि हमें बताया गया कि 11 अप्रैल 2019 तक उन्होंने सारी अनुमति ले रखी है , लेकिन जब प्रत्याशी के चालक से कागजात दिखाने को कहा गया तो कोई दस्तावेज वह नहीं दिखा पाए। इसके बाद गाड़ी पर लगा झंडा हटा लिया गया।


कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना की ओर से इस मामले की लिखित शिकायत चुनाव आयोग को भेजी गई है। धस्माना ने मुख्य चुनाव अधिकारी सौजन्या से फोन पर भी बात की और उन्हें मामले की जानकारी दी।

 

 

Todays Beets: