Tuesday, November 12, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

शीतकाल के लिए बंद हुए गंगोत्री धाम के कपाट, धूमधाम से निकली मां गंगा की डोली

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शीतकाल के लिए बंद हुए गंगोत्री धाम के कपाट, धूमधाम से निकली मां गंगा की डोली

देहरादून । उत्तराखंड का पवित्र धाम गंगोत्री के कपाट सोमवार को गोवर्धन पूजा के दिन पूरे विधि विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद हो गए। इस सब के बाद अब अगले 6 माह तक मां गंगा की पूजा उत्तरकाशी के गांव मुखबा में होगी । आईटीबीपी के बैंड की धुन पर मां गंगा की उत्सव डोली को उत्तरकाशी के मुखबा गांव की ओर प्रस्थान कराया गया । अब वर्ष 2020 में अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री धाम के कपाट खोले जाएंगे । इसी क्रम में आने वाले दिनों में अन्य तीन धामों के कपाट भी शीतकाल के लिए बंद होंगे ।  गंगोत्री धाम में इस साल रिकॉर्ड पांच लाख आठ हजार तीर्थयात्रियों ने मा गंगा के दर्शन किए । 

विदित हो कि गोवर्धन पूजा यानी अन्नकूट पर्व के दिन सोमवार सुबह श्रद्धालु और आसपास के गांव के आए लोग गंगोत्री मंदिर प्रांगण में एकत्र हुए । इसके बाद गंगोत्री धाम के पुजारियों ने पूजा अर्चना की और इसके बाद धाम के कपाट बंद कर दिए गए । पूरे विधि विधान के साथ गंगा की उत्सव डोली को उत्तरकाशी के मुखबा गांव की ओर ले जाया गया । 


गंगोत्री धाम मंदिर समिति के अध्यक्ष पंडित सुरेश सेमवाल का कहना है कि अब अगले छह महीने यहीं पर मां गंगा का बसेरा रहेगा । गंगोत्री धाम के कपाट बंद होने से राज्य की प्रमुख चार धाम यात्रा के समापन की शुरुआत हो गई है । अब भाई दूज के दिन यमुनोत्री और केदारनाथ धाम के कपाट भी शीतकाल के लिए बंद हो जाएंगे ।  

Todays Beets: