Friday, May 14, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

उत्तराखंड के सरकारी अस्पतालों में 1 जनवरी से महंगा हुआ इलाज , एक्सरे - अल्ट्रासाउंड के देने होगी ज्यादा रकम 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड के सरकारी अस्पतालों में 1 जनवरी से महंगा हुआ इलाज , एक्सरे - अल्ट्रासाउंड के देने होगी ज्यादा रकम 

देहरादून । उत्तराखंडवासियों के लिए 2020 में स्वास्थ्य सेवाएं महंगी होने जा रही हैं। असल में उत्तराखंड सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधीन आने वाले सरकारी अस्पतालों में इलाज करवाने के लिए आने वाले मरीजों को अब रजिस्ट्रेशन से लेकर भर्ती शुल्क और तमाम जांच के लिए अधिक दाम चुकाना होगा । इसके चलते मरीजों को आर्थिक झटका लगने वाला है । हालांकि राजकीय मेडिकल कॉलेज के अधीन आने वाले दून अस्पताल में इनमें फिलहाल कोई इजाफा नहीं होगा । वहीं दून के जिला अस्पताल (पंडित दीनदयाल उपाध्याय-कोरोनेशन और गांधी शताब्दी अस्पताल में ओपीडी जांच कराने के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म के लिए अब 17 रुपये के बजाय 25 रुपये देने होंगे । 

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके टम्टा के अनुसार , शासन ने नए आदेश के मुताबिक , हर साल की तरह इस बार भी 1 जनवरी से अस्पताल में रजिस्ट्रेशन कराने को लेकर विभिन्न जांच, वार्ड में भर्ती करने और इलाज आदि की दर में फीसदी बढ़ जाएगी । साथ ही विभिन्न संयुक्त, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी रजिस्ट्रेशन से लेकर भर्ती कराने और अन्य विभिन्न जांचों का खर्च दस फीसदी बढ़ जाएगा । 


नई व्यवस्था के तहत अब राज्य के सरकारी अस्पतालों में मरीजों को अल्ट्रासाउंड के लिए 518 रुपये और एक्स रे के लिए लगभग 200 रुपये देने होंगें। पिछले 5 सालों से राज्य के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज की दरों में कोई वृद्धि नहीं हुई है । ऐसे में इन अस्पतालों में अब दबाव बढ़ेगा । 

Todays Beets: