Monday, July 22, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

रुद्रप्रयाग के ऊखीमठ में 3 फीट बर्फ में 10 किमी पैदल चला दुल्हा-बारात, फिर जाकर हो पाई शादी

अंग्वाल संवाददाता
रुद्रप्रयाग के ऊखीमठ में 3 फीट बर्फ में 10 किमी पैदल चला दुल्हा-बारात, फिर जाकर हो पाई शादी

रुद्रप्रयाग । उत्तराखंड में पिछले कुछ दिनों से कई इलाकों में हो रही रुक-रुक कर बर्फबारी ने अब लोगों को आफत में डाल दिया है। देवभूमि के पहाड़ी इलाकों में कई फीट बर्फबारी होने के बाद लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो गए हैं। ऐसे में वहां होने वाले शादी समारोह किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं रह गए हैं। कुछ ऐसा ही एक मंजर रुद्रप्रयाग में सामने आया है , जहां बर्फबारी के चलते बंद हुए रास्तों का खामियाजा एक बराता को भुगतना पड़ा। बारात 3 फीट मोदी बर्फ की चादरों को पार करती हुई शादी समारोह स्थल तक पहुंची और फिर शादी हो सकी। 

पूरा मामला रुद्रप्रयाग से 80 किलोमीटर दूर ऊखीमठ ब्लाक इलाके का है। यहां त्रियुगीनारायण गांव निवासी हर्षमणि के बेटे रजनीश की शादी थी। लेकिन भारी बर्फबारी से गांव आने और जाने के सारे रास्ते बंद हो गए थे। भारी बर्फबारी के चलते तय हुआ कि कुछ ही लोग बारात में जाएंगे। बारात निकट के ही गांव मक्कूमठ में जानी थी, जहां जाने के रास्ते पर भी भारी बर्फबारी हुई थी। 


बहरहाल , किसी तरह कुछ कारों में सवार होकर लोग बारात लेकर निकले , लेकिन रास्ते में भारी बर्फबारी के चलते कार को आगे ले जाना संभव नहीं हुआ। ऐसे मे दुल्हा रजनीश अन्य बारातियों के साथ बर्फ में 10 किमी तक पैदल चलकर शादी समारोह स्थल पर पहुंचा। भारी बर्फबारी के चलते घर के भीतर ही शादी की सारी रस्में हुईं, इसके बाद भारी मुश्किलों का सामना करते हुए बाराती अगले दिन बारात लेकर अपने घर पहुंचे। 

Todays Beets: