Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

एक बार फिर से भीषण बर्फबारी की चपेट में उत्तराखंड, गंगोत्री हाईवे हुआ बंद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एक बार फिर से भीषण बर्फबारी की चपेट में उत्तराखंड, गंगोत्री हाईवे हुआ बंद

देहरादून। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों मंे जमकर बर्फबारी हो रही है। खबरों के अनुसार केदारनाथ में करीब 4 फीट बर्फ गिरी है वहीं उत्तरकाशी में भारी बर्फबारी के कारण गंगोत्री हाईवे बंद कर दिया गया है। गौर करने वाली बात है कि मौसम विभाग ने पहले ही प्रदेश के 4 जिलों में भारी बर्फबारी का अलर्ट जारी किया था। पहाड़ों पर बर्फबारी के चलते मैदानी इलाके में हाड़ कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है। बर्फबारी के चलते थल-मुनस्यारी सड़क कालामुनि से बलाती बैंड के बीच बंद हो गई है। ऐसे में लोग जहां-तहां फंस गए हैं। केदारनाथ में तो पारा माइनस 13 डिग्री तक पहुंच गया है। 

गौरतलब है कि पहाड़ों पर बर्फबारी का खामियाजा मैदानी इलाकों में रहने वाले लोगांे को भी भुगतना पड़ रहा है। हाड़ कंपाने देने वाली ठंड के कारण काशीपुर में ठंड से 60 वर्षीय वृद्ध लेखराज सिंह की मौत हो गई। वह एक गोदाम में चैकीदार थे और मूलरूप से ग्राम खड़कपुर देवीपुरा ठाकुरद्वारा यूपी के रहने वाले थे। पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. कैमाश राणा ने वृद्ध की ठंड से मौत की पुष्टि की है। उत्तराखंड के पहाड़ों पर होने वाली बर्फबारी सैलानियों के चेहरों पर तो खुशी ला दी है लेकिन स्थानीय लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। पानी के पाइपों में जम जाने की वजह से केदारनाथ में पुनर्निर्माण का काम भी रुक गया है। 

ये भी पढ़ें- भाजपा नेता अनिल गोयल पर कस सकता है आयकर विभाग का शिकंजा, 10 करोड़ी बंगले का खुलासा  


यहां बता दें कि मौसम विभाग ने शनिवार को ही अलर्ट जारी करते हुए राज्य के 3 जिलों में भारी बर्फबारी की संभावना जताई थी। उत्तरकाशी में जो गंगोत्री हाईवे बंद हो गया है। मंदाकिनी नदी का पानी भी जमने लगा है। यहां जिधर नजर डाला जाए उधर सिर्फ बर्फ ही बर्फ दिखाई दे रहा है। लोगों को बर्फ पिघलाकर पीने के लिए पानी तैयार करना पड़ रहा है। 

 

Todays Beets: