Sunday, November 1, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

PAK बॉर्डर के करीब गढ़वाल राइफल्स के लापता जवान को खोजने के लिए ऑपरेशन चलाने की मांग ,  CM से मिले परिजन

अंग्वाल संवाददाता
PAK बॉर्डर के करीब गढ़वाल राइफल्स के लापता जवान को खोजने के लिए ऑपरेशन चलाने की मांग ,  CM से मिले परिजन

देहरादून  ।  11वीं गढ़वाल राइफल्स के जवान राजेंद्र सिंह के परिजन सोमवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिले देहरादून पहुंचे। इस दौरान उन्होंने गत 8 जनवरी से लापता अनंतनाग फारवर्ड पोस्ट पर तैनात जवान राजेंद्र सिंह  को ढूंढने के लिए केंद्र सरकार से बातचीत की मांग की। परिजनों का कहना है कि उत्तराखंड के सीएम पीएम मोदी से इस संबंध में बात करें और उनके बेटे को वापस लाने में अहम ऑपरेशन चलाएं। परिजनों ने कहा कि इस तरह की खबरें मिल रही हैं कि वह भारी बर्फ में फिसलकर पाकिस्तान की सीमा में गिर गए हैं , जिसके बाद से उनकी कोई सूचना नहीं है । परिजनों की इस मांग पर मुख्यमंत्री ने परिजनों को केंद्र सरकार से बातचीत का आश्वासन दिया है। 

खबरों के अनुसार , अनंतनाग फारवर्ड पोस्ट के नजदीक गत दिनों एवलांच आने से राजेंद्र पाक सीमा की तरफ गिर गए थे। लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद भी उनका कोई पता नहीं चल पा रहा है। हालांकि सोशल मीडिया पर इस तरह कि खबरें है कि वह पाकिस्तानी सेना के कब्जे में हैं , लेकिन इसकी अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है । 


बता दें कि रविवार को राजेंद्र के पिता रतन सिंह नेगी, भाई कुंदन सिंह, सुरेंद्र सिंह नेगी, विधायक सहदेव सिंह पुंडीर के साथ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिले। इस दौरान राजेंद्र के पिता ने उनके बेटे को खोजने के लिए केंद्र सरकार से बात कर उचित कार्रवाई की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह इस संबंध में रक्षा मंत्री के साथ ही सेना के उच्चाधिकारियों से बातचीत करेंगे।

 

Todays Beets: