Saturday, May 30, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

बिना श्रद्धालुओं की भीड़ के खुले केदारनाथ धाम के कपाट , पहली पूजा पीएम मोदी ने नाम से विश्व कल्याण के लिए 

अंग्वाल संवाददाता
बिना श्रद्धालुओं की भीड़ के खुले केदारनाथ धाम के कपाट , पहली पूजा पीएम मोदी ने नाम से विश्व कल्याण के लिए 

देहरादून । देश में फैली महामारी के बीच बुधवार सुबह केदारनाथ के कपाट खुल गए हैं । दशकों के इतिहास में यह पहला मौका है , जब बिना श्रद्धालुओं की भीड़ के केदारनाथ के कपाट खोले गए हैं। बुधवार सुबह 6.10 मिनट पर संपूर्ण विश्व की सुख समृद्धि की कामना के साथ कपाट खोले गए । हालांकि बुधवार को होने वाली पहली पूजा पीएम नरेंद्र मोदी के नाम से संपन्न की गई । देश में जारी लॉकडाउन और कोरोना महामारी के चलते पूजा में मुख्य पुजारी समेत मात्र 16 लोग ही शामिल हुए । 

असल में कोरोना महामारी के चलते पूरे देश में जारी लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने भक्तों को केदारनाथ धाम के दर्शन की अनुमति नहीं दी है । अमूमन इस मौके पर जहां हर साल हजारों लोग मौजूद होते थे , वहीं बुधवार सुबह मात्र धाम के कर्मचारी, पुजारी और वेदपाठी ही मौजूद रहे । अगले कुछ दिनों तक मंदिर में केवल भोग, दोपहर का शृंगार और सांयकालीन आरती ही होगी । 


इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी श्रद्धालुओं को बाबा केदारनाथ के धाम के कपाट खुलने की शुभकामनाएं दी हैं ।  उन्होंने अपने संदेश में कहा, सभी श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं. आपका मनोरथ पूर्ण हो, बाबा केदार का आशीष सभी पर बना रहे, ऐसी मैं भगवान केदारनाथ से कामना करता हूं । कोरोना महामारी के इस वैश्विक संकट में हम बाबा केदार की आराधना घर में रह कर ही करें, सोशल डिस्टेंसिंग का अवश्य अनुपालन करें, घर में रहें, सुरक्षित रहें । 

Todays Beets: